नई दिल्ली: इलेक्ट्रानिक्स एवं आईटी मंत्रालय ने नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन आफ इंडिया (एनपीसीआई) से यह जांच करने को कहा है कि क्या व्हाट्सएप पेमेंट्स सर्विस ने रिजर्व बैंक नियमों और ग्राहकों की डेटा सुरक्षा नियमों को पूरा किया है. मंत्रालय ने एनपीसीआई से कहा कि वह यह जांच करे कि मोबाइल मैसेंजर एप ने अपनी सेवाओं का विस्तार करने से पहले रिजर्व बैंक नियमों और ग्राहकों के डेटा की सुरक्षा के लिए पर्याप्त कदम उठाए थे.

एक आधिकारिक सूत्र ने कहा कि मेइटी ने एनपीसीआई से कहा है कि वह जांच करे कि व्हाट्सएप पेमेंट्स रिजर्व बैंक की अनुमति के अनुरूप काम कर रही है.वह अपने डेटा को कहां स्टोर कर रही है.क्या सेवा का बड़ा संस्करण पेश करने से पहले उसकी मूल कंपनी फेसबुक ने उसके साथ डेटा साझा तो नहीं किए थे.

रिजर्व बैंक ने 5 अप्रैल , 2018 को कहा था सभी पेमेंट सिस्टम आपरेटरों को यह सुनिश्चित करना होगा कि पेमेंट से संबंधित आंकड़े सिर्फ भारत में स्टोर किए जाएं.उन्हें इसके अनुपालन के लिए छह महीने का समय दिया गया था.