बेंगलुरू की एक महिला ने ‘Swiggy Go‘  के खिलाफ एक कंप्लेन फाइल की है। इस रिपोर्ट के मुताबिक महिला को इस सर्विस के चलते 95,000 रुपये का चूना लग गया। Deccan Herald की रिपोर्ट के मुताबिक 47 साल की Aparna Thakkar Suri बेंगलुरू सेंट्रल, इंदिरानगर की रहने वाली हैं। इस महिला ने रविवार को पुलिस को शिकायत कर बताया कि कैसे Swiggy Go में एक कस्टमर केयर एग्जिक्यूटिव ने उसे 95000 रुपये का चूना लगा दिया। महिला के मुताबिक कस्टमर केयर एग्जिक्यूटिव ने महिला को एक लिंक शेयर किया जिसमें उसने अपनी बैंक डिटेल्स और UPI PIN को शेयर किया, जिसके बाद उसके अकाउंट से 95,000 रुपये कट गए।
रिपोर्ट के मुताबिक Aparna का कॉन्टैक्ट मोहम्मद बिलाल नाम के व्यक्ति से हुआ।
महिला ने अपना स्मार्टफोन OLX पर बिक्री के लिए रखा था। इसके बाद महिला ने अपना फोन बिलाल को भेजने के लिए ‘Swiggy Go’ ऐप का इस्तेमाल किया। कंपनी के एग्जिक्यूटिव ने महिला के फोन को बताए गए सर्विस सेंटर से 8:45 PM पर पिक कर लिया। हालांकि 11pm पर बिलाल ने अपर्णा को कॉल किया और कहा कि Swiggy Go ने डिलीवरी ऑर्डर को कैंसिल कर दिया है और उसे फोन नहीं मिला।

इसके बाद अपर्णा ने डिलीवर बॉय को कॉल किया जिसने बताया कि ऑर्डर कैंसिल हो गया है लेकिन फोन उसके ऑफिस में पढ़ा है। इसके बाद Swiggy स्पोक्सपर्सन ने अपर्णा को कहा कि न केवल उसमें अधूरा पता है बल्कि यह ऑर्डर उनके बेटे के नंबर से प्लेस किया गया है। इसके बाद अर्पणा ने सिम कार्ड को रिमूव करके अपने खुद के नंबर से एक एक नए डिलीवरी ऑर्डर को प्लेस किया। इसके बाद जब महिला ने खुद का नंबर दिया तो कस्टमर केयर ने महिला को बताया कि उसने कोई ऑर्डर प्लेस नहीं किया है।

इसके बाद अपर्णा ने गूगल सर्च में स्विगी गो कस्टमर केयर का नंबर सर्च किया और वहां कॉल किया। हालांकि गूगल पर उपलब्ध यह नंबर फेक था। रिपोर्ट के मुताबिक इसके बाद इस एग्जिक्यूटिव ने महिला को एक और ऑर्डर सिर्फ 3 रुपये में प्लेस करने को कहा और इसके लिए एक लिंक भी शेयर किया। इसके बाद जैसे ही महिला ने दिए गए लिंक में अपनी बैंक डिटेल्स और यूपीआई पिन दिया वैसे ही उसके अकाउंट से 95,000 रुपये कट गए। वहीं दूसरी तरफ Swiggy ने अपने बयान में कहा है कि महिला को किसी दूसरे व्यक्ति ने चीट किया है स्विगी ने नहीं।