नई दिल्ली: स्मार्टफोन में शाओमी 30.3 फीसदी बाजार हिस्सेदारी के साथ भारत में साल 2018 की पहली तिमाही में लगातार पहले स्थान पर बना हुआ है, जबकि सैमसंग 25.1 फीसदी हिस्सेदारी के साथ दूसरे स्थान पर है. बाजार विश्लेषक इंटरनेशनल डेटा कॉरपोरेशन (आईडीसी) ने सोमवार को यह जानकारी दी. 4जी फीचर वाले फोन के बाजार में लगातार हर तिमाही 50 फीसदी की दर से वृद्धि हो रही है. 4जी फोन में रिलायंस जियोफोन 38.4 फीसदी की हिस्सेदारी के साथ सबसे आगे है.

आईडीसी के तिमाही मोबाइल फोन ट्रैकर के अनुसार, भारत में स्मार्टफोन बाजार में लगातार 11 फीसदी सालाना दर से वृद्धि हो रही है. हालांकि 2017 की चौथी तिमाही के मुकाबले बाजार में स्थिरता बनी रही. शाओमी की कुल ऑनलाइन बिक्री पहली तिमाही में पिछले साल की 32 फीसदी से बढ़कर 53 फीसदी हो गई. आईडीसी इंडिया के वरिष्ठ बाजार विश्लेषक, जयपाल सिंह ने कहा, शाओमी विविध चैनल के रास्ते विशिष्ट स्थान पर है और हर चैनल में जबरदस्त मांग है. हुआवेई ऑनर-9 लाइट भी 2018 की शुरुआती तिमाही में शीर्ष पांच ऑनलाइन मॉडल में पहुंच बना ली है.

Jio ने लॉन्च किया सबसे सस्ता पोस्टपेड प्लान, 15 मई से उठाएं ऑफर का लाभ

घरेलू स्मार्टफोन के बारे में आईडीसी इंडिया की वरिष्ठ बाजार विश्लेषक उपासना जोशी ने कहा, पीसीबी, कैमरा मॉड्यूल और कनेक्टर पर भारत सरकार द्वारा हाल में बढ़ाए गए आयात शुल्क से निश्चित रूप से स्मार्टफोन कंपनियों पर लागत का दबाव बढ़ गया है. सैमसंग दूसरे स्थान पर है, जबकि इसकी सालाना वृद्धि दर स्थिर रही है.

ओपो पिछली तिमाही के पांचवें स्थान से छलांग लगाते हुए तीसरे स्थान पर आ गया है. हालांकि वीवो तीसरे स्थान से फिसलकर चौथे स्थान पर चला गया है. इसकी बिक्री में पहली तिमाही में 29.4 फीसदी की गिरावट आई है. चीन के ट्रांसन समूह ने अपनी शुरुआत में ही शीर्ष पांच मोबाइल कंपनियों में जगह बना ली है. इसके चार ब्रांड हैं- आइटेल, टेक्नो, इनफिनिक्स और स्पाइस.

(इनपुट: भाषा)