लखनऊ/देहरादून: उत्‍तराखंड में शुक्रवार सुबह बड़ा ही दर्दनाक हादसा हो गया. उत्‍तराखंड के टनकपुर के बिचई क्षेत्र में शुक्रवार तड़के बेकाबू ट्रक ने पूर्णागिरी दर्शन करने जा रहे श्रद्धालुओं के जत्‍थे को रौंद दिया. इस दर्दनाक हादसे में यूपी के 11 श्रद्धालुओं की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि 20 श्रद्धालु घायल हो गए. इसमें सात लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है. उत्तराखंड के मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने हादसे पर गहरा शोक प्रकट किया है. Also Read - चार दिन से आग में झुलस रहे हैं उत्तराखंड के जंगल, काबू न होने पर भयावाह हो सकती है स्थिति

Also Read - राजस्थान सरकार पर मायावती का निशाना, कहा किराया मांगना कंगाली और अमानवीयता का प्रदर्शन

जानकारी के मुताबिक शुक्रवार सुबह पांच बजे के आसपास यह दुखद हादसा हुआ. जब एक बेकाबू ट्रक ने श्रद्धालुओं के एक जत्थे को कुचल डाला. मरने वालों में अधिकांश लोग उत्तर प्रदेश के बरेली जनपद के नवाबगंज इलाके के बुखारपुर गांव के रहने वाले थे. यह दुर्घटना उस समय हुई जब श्रद्धालु देवी मां का डोली लेकर पैदल जा रहे थे. पुलिस के मुताबिक इस दर्दनाक हादसे में मारे गए सभी लोगों की पहचान कर ली गई है और परिजनों को इसकी सूचना दे दी गई है. गंभीर रूप से घायल 7 लोगों की हालत चिंता जनक बनी हुई है. गंभीर रूप से घायलों का इलाज संयुक्त चिकित्सालय खटीमा में चल रहा है और शेष घायल लोगों का इलाज संयुक्त चिकित्सालय टनकपुर में चल रहा है. Also Read - IRCTC Indian Railway Trains List For Delhi: दिल्ली से चलेंगी 40 ट्रेनें, जानें हर स्टेशन से ट्रेनों के चलने और गुजरने की जानकारी

बरेली में नवाबगंज तहसील के गांव बुखारपुर में पसरा मातम

बरेली के नवाबगंज तहसील के गांव बुखारपुर से लोग मां पूर्णागिरी के दर्शन करने जा रहे थे. इस दौरान बुखारपुर सहित आसपास के अन्‍य गांवों के करीब ढाई सौ लोगों का जत्‍था बरेली से पूर्णागिरी के लिए रवाना हुआ. लेकिन रास्‍ते में इतना बड़ा हादसा हो गया. बुखारपुर गांव में शायद ही कोई घर बचा हो जहां पर किसी के यहां कोई मौत न हुई है. आज सुबह जैसे ही हादसे की सूचना मिली गांव में हाहाकार मच गया.

पिता संग दो बेटों की मौत, तीसरे बेटे का कटा पैर

बुखारपुर गांव से माखनलाल अपने तीन बेटों के साथ पूर्णागिरी दर्शन के लिए जा रहे थे. लेकिन रास्‍ते में इतना बड़ा हादसा हो गया. हादसे में उनकी मौत के अलावा बड़े बेटे सोनू (18) और छोटे बेटे बाबू (12) की मौत हो गई. हादसे के बाद घरवालों का रो-रोकर बुरा हाल है.

उत्तराखंड के सीएम ने जताया शोक

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने शुक्रवार को श्री पूर्णागिरी(टनकपुर) के बिचई क्षेत्र में हुई दुर्घटना में मृतकों के प्रति गहरा शोक व्यक्त किया है. उन्होंने दिवंगतों की आत्मा की शांति एवं दुःख की इस घड़ी में उनके परिजनों को धैर्य प्रदान करने एवं घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की ईश्वर से कामना की है. मुख्यमंत्री ने सड़क हादसे में घायल हुए लोगों के समुचित उपचार के लिये जिलाधिकारी चम्पावत को निर्देश दिये हैं.

मौसम विभाग ने दी आंधी-तूफान की चेतावनी, उत्‍तर भारत में आने वाले तीन दिन खतरे वाले

उत्‍तराखंड आपातकालीन केंद्र के मुताबिक 11 की मौत

आपातकालीन परिचालन केन्द्र देहरादून से प्राप्त सूचना के अनुसार इस दुर्घटना में 11 लोगों की मृत्यु हुई है. 07 लोग गंभीर रूप से घायल हुये हैं और 13 लोग घायल हुये. गंभीर रूप से घायलों का इलाज संयुक्त चिकित्सालय खटीमा में चल रहा है और शेष घायल लोगों का इलाज संयुक्त चिकित्सालय टनकपुर में चल रहा है.

मृतकों की सूची

1. वीर सिंह (18) पुत्र अंगदलाल निवासी ग्राम उलेतापुर, बहेड़ी, बरेली

2. सोनू (18) पुत्र माखन लाल निवासी बुख़ारपुर नवाबगंज, बरेली

3. माखनलाल पुत्र गेंदनलाल निवासी बुखारपुर, नवाबगंज

4. बाबू (12) पुत्र माखन लाल निवासी बुख़ारपुर, नवाबगंज, बरेली

5. दीनदयाल (35) पुत्र पोथीराम निवासी बुख़ारपुर, नवाबगंज, बरेली

6. रामकुमार (16) पुत्र नन्हे सिंह निवासी बुख़ारपुर, नवाबगंज, बरेली

7. केशर सिंह (16) पुत्र रूपकरण निवासी बिहारीपुर, बहेड़ी

8. रामस्वरूप (40) पुत्र नत्‍थु सिंह निवासी बुख़ारपुर, नवाबगंज

9. सोहनलाल (40) पुत्र नत्थू लाल निवासी बुख़ारपुर, नवाबगंज बरेली।

10. विशाल (17) पुत्र जसवंत निवासी सदरपुर, हाफिजगंज

11. कमल सिंह पुत्र उदयसिंह, बुखारपुर, नवाबगंज, बरेली