बरेली (उत्तर प्रदेश): उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बरेली जिले में रेप के बाद प्रेग्नेंट (Pregnant after Rape) हुई किशोरी की मौत हो गई है. किशोरी की कुछ दिन पहले तबियत खराब हुई. उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया. इसके बाद किशोरी की मौत हो गई. 15 साल की किशोरी 6 महीने से प्रेग्नेंट (Pregnant) थी. किशोरी मानसिक रूप से कमजोर थी. Also Read - MP: इंदौर में 19 साल की कॉलेज छात्रा से 5 युवकों ने किया गैंगरेप, मरने के लिए रेलवे ट्रैक पर फेंक गए

मामला बरेली (Bareilly) के फतेहगंज पश्चिमी क्षेत्र का है. फतेहगंज पश्चिमी थाना प्रभारी अश्विनी कुमार ने बताया कि किशोरी के साथ दुष्कर्म के आरोप में बनवारी नामक युवक पर मुकदमा दर्ज करके उसे गिरफ्तार किया गया था. बरेली के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक रोहित शर्मा ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में संक्रमण के कारण गर्भवती किशोरी की मौत होने की बात सामने आई है. बहरहाल, बिसरा सुरक्षित कर लिया गया है. Also Read - हाईकोर्ट ने 13 साल की रेप पीड़िता के अबॉर्शन की अनुमति नहीं दी, सरकार उठाए खर्च

किशोरी के पिता ने बताया कि चार दिसंबर को उनकी बेटी को अचानक उल्टी होने लगी. जांच कराने पर पता चला कि वह छह माह की गर्भवती है. पत्नी ने बेटी से बात की तो उसने बताया कि बनवारी नामक युवक ने उसके साथ दुष्कर्म किया था. साथ ही धमकी भी दी थी कि इस कृत्य के बारे में घर में किसी को बताया तो पूरे परिवार को जान से मार डालेगा.लड़की के पिता ने कहा कि तबीयत खराब होने पर उसने अपनी बेटी का गर्भपात कराने की प्रशासन से अनुमति मांगी लेकिन अनुमति नहीं मिली. Also Read - मध्य प्रदेश में 13 साल की दलित लड़की से रेप, जिंदा दफनाने की कोशिश, हालत गंभीर

डॉक्टर ने भी पुलिस का मामला और ज्यादा दिन का गर्भ होने की वजह से गर्भपात करने से मना कर दिया था. जिला अस्पताल के वरिष्ठ अधीक्षक डॉक्टर सुबोध शर्मा ने बताया कि किशोरी को बेहद गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया था. सुधार होने के बजाय हालत लगातार बिगड़ती जा रही थी. बचाने का पूरा प्रयास किया गया लेकिन उसकी मौत हो गई. किशोरी के पिता ने आरोपी के खिलाफ फतेहगंज पश्चिमी थाने में दुष्कर्म करने और जान से मारने की धमकी देने और पोक्सो अधिनियम की धाराओं में गत चार दिसंबर को रिपोर्ट दर्ज कराई. छह दिसंबर को आरोपित को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया.