महोबा (उप्र): जिले की शहर कोतवाली क्षेत्र में सात महीने पहले कथित बलात्कार की शिकार हुई सत्रह साल की किशोरी द्वारा सरकारी अस्पताल में बच्चे को जन्म देने के मामले में पुलिस ने दो आरोपियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है. Also Read - Noida: COVID-19 संक्रमण से हुई 78 फीसदी मरीजों की मौत की वजह हार्ट अटैक

महोबा के पुलिस अधीक्षक (एसपी) मणिलाल पाटीदार ने शनिवार को बताया, “सत्रह साल की लड़की के साथ उसके घर में घुसकर सात माह पहले बलात्कार किया गया था, लेकिन तब आरोपियों की धमकी की वजह से पीड़िता ने घटना की जानकारी अपने परिजनों को नहीं दी थी. बृहस्पतिवार को जब पेट दर्द होने पर परिजन उसे सरकारी अस्पताल ले गए, तब उन्हें इसकी जानकारी हुई. पीड़िता ने अस्पताल में एक बच्चे को जन्म भी दिया है.’’ Also Read - Leopard Attack Live Video: झाड़ियों के बीच से निकला तेंदुआ, इतनी तेजी से लगाई छलांग, देखें हमले का लाइव वीडियो

उन्होंने बताया, “शुक्रवार की शाम लड़की के पिता की तहरीर पर उसी गांव के युवक जयचंद्र के खिलाफ बलात्कार करने, जान से मारने की धमकी देने और शिवानन्द के खिलाफ सहयोग करने की धाराओं के अलावा पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है.’’ अधिकारी ने बताया, “दोनों आरोपी युवक गांव से फरार हैं, उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस दबिश दे रही है.” Also Read - Uttar Pradesh Lockdown Guidelines: यूपी में दो दिन तक लॉकडाउन जैसी पाबंदियां, नहीं चलेंगी रोडवेज बसें; यहां देखें ताजा दिशानिर्देश