लखनऊ: यूपी पुलिस प्रदेश में रोजाना हो रही रेप की घटनाओं पर अंकुश लगाने में नाकाम साबित हो रही है. यह हाल तब है जब कठुआ और उन्नाव गैंगरेप की घटनाओं को लेकर देशभर के लोगों में आक्रोश है. इन मामलों को लेकर लोगों का आक्रोश अभी कम नहीं हुआ था कि सिद्धार्थनगर में छह साल की बच्‍ची से रेप की घटना सामने आई है. घटना तब हुई जब मासूम बच्‍ची गांव में आई बारात देखने गई थी. घटना के आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.Also Read - Marital Rape: सहमति के बिना पत्नी से यौन संबंध बनाना रेप है या नहीं, इस पर हाईकोर्ट में हो रही चर्चा

Also Read - Jharkhand News: लोहरदगा में आदिवासी नाबालिग लड़की से गैंगरेप के मामले में तीन गिरफ्तार

जानकारी के मुताबिक, सिद्धार्थनगर के चिलिया क्षेत्र में बुधवार रात एक शादी समारोह थी. इस दौरान एक ग्रामीण के घर के सभी लोग बारात देखने गए थे. ग्रामीण की छह साल की बेटी भी बारात देखने गई थी. तभी गांव का ही एक शख्‍स उसको बहला-फुसलाकर झाडि़यों में ले गए. वहां दरिंदे से मासूम के साथ रेप किया. इस पर मासूम बेहोश हो गई तो आरोपी उसे छोड़कर भाग गया. उधर, बारात देखकर घर लौटे परिवार के लोगों को बच्‍ची के नहीं मिलने पर चिंता हुई. सभी लोग उसे खोजने लगे. इस दौरान गांव के बाहर झाड़ियों में मासूम बेहोशी की हालत में मिली. घरवालों ने उसे फौरन अस्पताल में भर्ती करवाया गया. साथ ही पूरे मामले की सूचना पुलिस को दी गई. पुलिस ने मामले की जांच करते हुए पीड़िता की शिनाख्त पर गांव के ही आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है. Also Read - दोस्तों को बुलाकर अपनी ही पत्नी से कराता था गैंगरेप, पति चौंकाने वाले तरीके से करता था प्रताड़ित, अब...

एटा में बारात देखने गई बच्‍ची से रेप के बाद हुई थी हत्‍या
बता दें कि बीते दिनों एटा के एक गांव में देर रात शादी समारोह चल रहा था. वहां आठ साल की बच्ची अपने परिवार के साथ शादी में शामिल होने आई थी. शादी की रस्में चल रही थीं. सभी लोग इसमें व्यस्त थे. तेज़ गाने बज रहे थे. इसी दौरान शादी में आया सोनू नामक युवक बच्ची को बहला फुसलाकर शादी समारोह स्थल के पास ही निर्माणाधीन मकान में ले गया. यहां एक कमरे में उसने बच्ची के साथ रेप किया. परिजन बच्ची को तलाशने लगे. तलाशते-तलाशते वह निर्माणाधीन मकान की ओर गए. यहां से बच्ची की चीखें सुनाई दी. चीखें सुन मौके पर पहुंचे परिजनों ने देखा कि आरोपी बच्ची का गला दबा रहा था. जब तक वह उसे रोकते तब तक गला दबने से बच्ची की मौत हो गई थी.