आगरा: आगरा में शुक्रवार को कोरोनावायरस के नौ नए मामलों की पुष्टि हुई है, जिससे यहां संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर अब 1,008 हो गई है, लेकिन एक बुजुर्ग द्वारा इस महामारी को मात दिए जाने के बाद शहर का माहौल खुशनुमा हो गया है. 97 वर्षीय यह शख्स पेशे से एक इंजीनियर रह चुके हैं. वह गांधी नगर कॉलोनी के रहने वाले हैं. कोरोना से उनके ठीक होने से न केवल सबके चेहरे पर मुस्कान है, बल्कि इसने मेडिकल जगत को उम्मीद की एक किरण भी दी है. यहां कोरोना के इलाज को समर्पित एक सरकारी अस्पताल में उनका उपचार किया गया है. Also Read - Coronavirus in Rajasthan Update: कोविड-19 संक्रमण के 204 नए मामले, अब तक 443 लोगों की हुई मौत, जानें कहां कितने केस

आगरा में 97 साल के एक बुजुर्ग व्यक्ति के कोरोना वायरस संक्रमण से उबरने के बाद स्थानीय अधिकारियों ने उनके स्वस्थ होने को कोविड-19 मरीजों के लिए ‘‘उम्मीद की किरण” बताया है. 1923 में जन्मे इस व्यक्ति को एक निजी अस्पताल से बुधवार को छुट्टी दी गई थी. वह देश में कोविड-19 से पीड़ित सबसे उम्रदराज लोगों में से एक हैं जो पूरी तरह स्वस्थ हो गए हैं. Also Read - School-college Reopening Latest News: कोरोना संकट के बीच इस राज्य सरकार ने स्कूल-कॉलेज को खोलने को लेकर लिया बड़ा निर्णय

आगरा के जिला मजिस्ट्रेट प्रभु एन सिंह ने बृहस्पतिवार को कहा कि बुजुर्ग का स्वस्थ होना इस ऐतिहासिक शहर के लिए “गौरव की बात” है. उन्होंने कहा, “हमारी टीम उनकी स्थिति पर रोजाना नजर रख रही थी और जिस दिन उनकी कोरोना वायरस की जांच रिपोर्ट में संक्रमण नहीं होने की पुष्टि हुई, हमें बहुत खुशी हुई. उनका स्वस्थ होना उम्मीद की किरण बनकर आया है.” Also Read - Coronavirus in India latest Update: नहीं लग रहा कोरोना संक्रमण पर ब्रेक, 24 घंटे में 22 हजार से ज्यादा नए मामले, 6.50 लाख के करीब लोग संक्रमित

गुरुवार को आगरा में दो और लोगों की मौत हो गई है, जिससे यहां मौत का आंकड़ा बढ़कर 56 हो गया है. जिलाधिकारी पी.एन.सिंह ने कहा कि 840 मरीज ठीक हो चुके हैं और 112 का उपचार चल रहा है. जिले में अब तक 15,940 नमूने एकत्रित किए गए हैं. आगरा में अब 43 शहरी और 23 ग्रामीण कंटेन्मेंट जोन हैं.

मथुरा में गुरुवार को 38 सकारात्मक मामलों की पुष्टि हुई है, जिनमें से अधिकतर प्रवासी मजदूर बताए जा रहे हैं, जो अन्य राज्यों से अपने घर लौटे हैं. एटा में सात, मैनपुरी और फिरोजाबाद में क्रमश: दस-दस मामले सामने आए हैं.

(इनपुट एजेंसी)