AAP MLA Somnath Bharti Arrested: दो दिन पहले उत्तर प्रदेश के दौरे पर पहुंचे दिल्ली में केजरीवाल सरकार के पूर्व कानून मंत्री सोमनाथ भारती के खिलाफ विवादित बयान देने के बाद एफआईआर दर्ज की गई और उसके बाद सोमनाथ भारती को रायबरेली में गिरफ्तार कर लिया गया है. उन्होंने विवादित बयान दिया था जिसमें उन्होंने कहा था कि उत्तर प्रदेश के अस्पतालों में बच्चे तो पैदा हो रहे हैं, लेकिन कुत्तों के बच्चे पैदा हो रहे हैं’, ऐसा बयान देना उनके गले की हड्डी बन गया. Also Read - AAP नेता मनीष सिसोदिया का बड़ा ऐलान-उत्तराखंड में सभी 70 सीटों पर चुनाव लड़ेगी हमारी पार्टी

बीती रात भारती के इसी बयान को लेकर जगदीशपुर थाने में उनके विरूद्ध मुकदमा दर्ज हुआ था. एसएचओ जगदीशपुर राजेश कुमार सिंह व एसएचओ महिला थाना कंचन सिंह ने गिरफ्तारी की. गिरफ्तारी के बाद सोमनाथ भारती को फुरसतगंज थाने ले जाया गया. हालांकि, कुछ ही देर बाद उन्हें अज्ञात स्थान की ओर ले जाया गया. Also Read - Uttar Pradesh: योगी के मंत्री के बिगड़े बोल, अपराधी कुत्ते होते हैं, रूक जाईएगा तो पूंछ हिलाएंगे

फुरसतगंज एसओ का कहना है कि पूर्व मंत्री को यहां नहीं रखा गया है. उधर अमेठी जिले के आम आदमी पार्टी प्रभारी हितेंद्र सिंह का कहना है कि वह गिरफ्तारी के बाद पीछे लगे हुए थे लेकिन पुलिस ने उन को गुमराह कर दिया और पूर्व मंत्री को अब कहीं और ले जाया गया है. Also Read - मुंबई पहुंचे UP CM योगी आदित्यनाथ, मचा बवाल, उद्धव ठाकरे ने दी धमकी, मनसे ने कहा-ठग आया है

प्रयागराज से दौरा करके सोमनाथ भारती बीते शुक्रवार को अमेठी के एक दिवसीय दौरे पर पहुंचे थे और जगदीशपुर में उन्होंने एक मैरिज पॉइंट पर मीटिंग अरेंज की फिर वहां के जीआईसी स्कूल का इंस्पेक्शन भी किया था.

इंस्पेक्शन के बाद सोमनाथ भारती ने कहा था कि ‘हम केजरीवाल मॉडल लेकर आए हैं और जब हम उत्तर प्रदेश के स्कूल को देख रहे हैं. यहां के अस्पताल को देख रहे हैं, ऐसी बदतर हालत में हैं कि, अस्पतालों में बच्चे तो पैदा हो रहे हैं लेकिन कुत्तों के बच्चे पैदा हो रहे हैं.’ बता दें कि सोमनाथ भारती ने ऐसा इसलिए कहा था कि वह प्रयागराज के सरकारी अस्पताल में गए थे तो वहां कुत्ते के बच्चे उन्हें टहलते मिले थे.

पूर्व मंत्री के खिलाफ रविवार देर रात जगदीशपुर के हरपालपुर निवासी शोभनाथ साहू की तहरीर पर जगदीशपुर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया. थानाध्यक्ष (SO) जगदीशपुर राजेश सिंह ने बताया कि क्राइम नंबर 14/20 धारा 505 /153 A के तहत पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर लिया है.