बरेली (उप्र): बरेली जिले के ग्रामीण क्षेत्र के थाना बिशारतगंज में हत्या के एक आरोपी ने रविवार को हवालात में फांसी लगा कर खुदकुशी कर ली. हत्या के आरोपी की थाने में खुदकुशी की सूचना पर हड़कम्प मच गया और आनन फानन में एसएसपी मुनिराज मौके पर पहुँचे और उन्होंने घटनास्थल का जायजा लेने के साथ ही थाने में तैनात कर्मचारियों से भी पूछताछ की. लापरवाही बरतने के आरोप में थाने के निरीक्षक, हेडकांस्टेबल और पहरे पर तैनात सिपाही को निलंबित कर दिया गया है.

बरेली के डीआईजी आरके पांडेय ने बताया कि 18 जून को बिशारतगंज थाना क्षेत्र में अखा गांव के पास रेलवे लाइन पर एक युवक की लाश मिली थी जिसकी पहचान अखा गांव के श्याम सिंह उर्फ श्यामू के रूप में हुई थी. जब पुलिस ने इस मामले की जांच की तो पता चला किसी ने हत्या कर श्यामू के शव को रेलवे लाइन पर फेंक दिया था. पुलिस ने पूछताछ के बाद बदायूं जिले के हजरतपुर थाना क्षेत्र के रामवीर सिंह को हत्या के आरोप में पकड़ा था. उन्होंने बताया कि रामवीर का श्यामसिंह उर्फ श्यामू की पत्नी से अवैध सम्बन्ध थे और उसने पूछताछ के दौरान स्वीकार किया था कि उसने अपने तीन साथियों की मदद से श्यामसिंह उर्फ श्यामू की हत्या की थी.

पूछताछ के बाद रामवीर को थाने के हवालात में बंद कर दिया था, आरोप है कि रामवीर ने अपने गमछे से शौचालय में फांसी लगा ली. पुलिसकर्मियों को काफी देर तक हवालात में रामवीर नहीं दिखा तो उन्होंने आवाज लगा कर उसे बुलाया. वह गमछे के फंदे से लटका हुआ था उसे तत्काल गमछा खोलकर नीचे उतारा गया. इलाज के लिए अस्पताल ले गए जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया.