लखनऊ: पिछले एक साल से उत्तर प्रदेश में सत्ता से बेदखल समाजवादी पार्टी देश की सबसे अमीर क्षेत्रीय पार्टी बन गई है. समाजवादी पार्टी ने 2016-17 में 82.76 करोड़ रुपए की कमाई घोषित की है. इतनी कमाई देश के 32 क्षेत्रीय दलों में से किसी की भी नहीं है. दूसरे नम्बर पर 72.92 करोड़ रुपए की कमाई वाली तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) व तीसरे नम्बर पर अन्नाद्रमुक है. अन्नाद्रमुक की आय 48.88 करोड़ रुपए है. हालांकि समाजवादी पार्टी ने आय से 64.34 करोड़ अधिक खर्च की बात कही है. सपा का कहना है कि उसने आय से अधिक खर्च किया है. एक साल से मुलायम सिंह यादव के बेटे पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं.Also Read - सपा सरकार में आतंकियों की आरती उतारी जाती थी, हिंदुओं पर झूठे मुकदमे होते थे: सीएम योगी

क्षेत्रीय पार्टियों की कुल आय 321.03 करोड़ रुपए
एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) की एक रिपोर्ट में मंगलवार को यह जानकारी दी गई. एडीआर के अनुसार वित्तीय वर्ष 2016-17 में 32 क्षेत्रीय पार्टियों की कुल आय 321.03 करोड़ रुपए रही. इनमें से 14 पार्टियों का दावा है कि उनकी आय में गिरावट आई है, जबकि 13 ने आय में वृद्धि की बात कही है. पांच क्षेत्रीय दलों ने निर्वाचन आयोग में अपना आयकर रिटर्न जमा नहीं किया है. इसमें जम्मू एवं कश्मीर पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी, भारतीय राष्ट्रीय लोकदल, महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी, ऑल इंडिया युनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट और केरल कांग्रेस मणि शामिल हैं. Also Read - अखिलेश यादव से मिले उमर खालिद के पिता, योगी आदित्यनाथ बोले- अगर ये लोग आएंगे तो क्या करेंगे

पार्टियों ने खर्च का खुलासा किया
ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन और जनता दल सेक्युलर ने घोषणा की कि उनकी संबंधित आय का 87 फीसदी से ज्यादा खर्च नहीं हुआ है, जबकि तेदेपा ने कहा कि उसकी आय का 67 फीसदी बचा हुआ है. द्रमुक ने अपनी आय से 81.88 करोड़ रुपए ज्यादा खर्च होने की घोषणा की जबकि समाजवादी पार्टी और अन्नाद्रमुक ने अपने आय से क्रमश: 64.34 करोड़ रुपए और 37.89 करोड़ रुपए ज्यादा खर्च होने की जानकारी दी है. इन 32 के अलावा 16 क्षेत्रीय पार्टियों की लेखा रिपोर्ट उपलब्ध नहीं है. इसमें आम आदमी पार्टी, नेशनल कांफ्रेंस और राष्ट्र जनता दल शामिल हैं. Also Read - PM मोदी बोले- इन लोगों की पहचान समाजवादी नहीं, परिवारवादी की बन गई, सिर्फ अपने परिवार का भला किया