नई दिल्ली. भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) ताजमहल के संरक्षण की खातिर कुछ नये कदम उठा सकता है जिनमें वहां आने वाले पर्यटकों की संख्या हर दिन 40,000 सीमित करना और हर पर्यटक के लिए 17वीं सदी के मुगल स्मारक के परिसर में अधिकतम तीन घंटे घूमने की समयसीमा तय करना शामिल है.

संस्कृति मंत्रालय के एक सूत्र ने पीटीआई-भाषा को यह जानकारी दी. संस्कृति सचिव रविंद्र सिंह ने एएसआई के अधिकारियों, आगरा जिला प्रशासन के प्रतिनिधियों और केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) के अधिकारियों के साथ एक उच्च स्तरीय बैठक की जिसमें यह फैसला किया गया.

Madurai: Techie commits suicide due to ‘hair fall problem’ | हेयरफॉल से परेशान सॉफ्टवेयर इंजिनियर ने की आत्महत्या

Madurai: Techie commits suicide due to ‘hair fall problem’ | हेयरफॉल से परेशान सॉफ्टवेयर इंजिनियर ने की आत्महत्या

मंत्रालय के अधिकारियों ने कहा कि टिकटों की ब्रिकी ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों 40,000 की संख्या पर रोक दी जाएगी. इस समय संख्या को लेकर किसी तरह की रोकटोक नहीं है. पर्यटन के मुख्य मौसम में और दूसरे मौकों पर कई बार पर्यटकों की संख्या हर दिन 60,000 से 70,000 हो जाती है.

अधिकारियों ने बताया कि पर्यटकों की संख्या सीमित करने का फैसला नेशनल इन्वायरनमेंटल इंजीनियरिंग एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट (नीरी) की रिपोर्ट में दी गयी अंतिम सिफारिश पर आधारित है.