नोएडा: नोएडा की आबो-हवा दिन पर दिन जहरीली होती जा रही है आलम यह है कि यहां पर प्रदूषण का स्तर खतरनाक श्रेणी में पहुंच गया है. उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी अनिल कुमार सिंह ने बताया कि नोएडा में आज वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 403 मापा गया. जबकि इसका न्यूनतम स्तर 100 से 150 रहना चाहिए.

अब यूपी की ‘हवा’ भी होने लगी जहरीली, लखनऊ-कानपुर सहित इन शहरों की हालत बेहद खराब

उन्होंने बताया कि यहां पर दिन- पर दिन प्रदूषण का स्तर बढ़ता जा रहा है. जो जनमानस के लिए घातक साबित हो रहा है. उन्होंने बताया कि प्रदूषण विभाग ने नोएडा प्राधिकरण को पत्र लिखा है, कि वह बढते प्रदूषण को घटाने के लिए कारगर कदम उठाए. इस मामले में नोएडा प्राधिकरण के अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी राकेश कुमार मिश्रा ने बताया कि प्रदूषण विभाग के निर्देशों के तहत नोएडा में एक नवंबर से 10 नवंबर तक सभी तरह के निर्माण कार्यों को बंद करा दिया गया है.

जहरीली हुई दिल्ली NCR की हवा, सांस लेना हुआ दूभर, ये है ताजा हाल

ईट के भट्टों, कोयले तथा लकड़ी से संचालित फैक्ट्री, हॉट मिक्स प्लांट, डीजल जनरेटर आदि पर भी प्रतिबंध लगाने के निर्देश जारी कर दिए गए हैं. उन्होंने बताया कि वायु प्रदूषण को रोकने के लिए नोएडा प्राधिकरण यहां के पेड़ों व सड़कों पर पानी का छिड़काव कर रहा है. उन्होंने बताया कि नोएडा के सभी वर्क सर्किल के प्रभारियों को आदेश दिया गया है कि वे प्रदूषण रोकने के लिए कारगर कार्रवाई करें.