लखनऊ: पहिए लगे सूटकेस पर बच्चे को लिटाकर सफर करने वाले प्रवासी मजदूर परिवार को समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एक लाख रुपये देने की घोषणा की है. सपा मुखिया अखिलेश यादव ने शुक्रवार को अपने ट्वीट के साथ वह वीडियो भी पोस्ट किया, जिसमें राजमार्ग पर एक प्रवासी महिला पहिये लगे सूटकेस को खींच रही है, जिस पर उसका बच्चा लगभग आधा लटका हुआ, सो रहा है. यह वीडियो हालांकि कई समाचार चैनलों पर पहले ही दिखाया जा चुका है. Also Read - COVID 19 Viral News: लॉकडाउन में घर से बाहर निकला रसगुल्ला खरीदने, पुलिस ने कुछ यूं लगाई क्लास

वीडियो के साथ वाले ट्वीट में अखिलेश ने लिखा, “जिस मासूम को इतनी कम उम्र में ही इतनी भयावह परिस्थितियों से गुजरना पड़ा है, उसके जीवन में कुछ सकारात्मक घट सके, इस आशा के साथ हम इस बच्चे के माता-पिता तक 1 लाख रुपये की आर्थिक मदद पहुंचाएंगे, जो ‘सत्ता’ का दिया दुख झेल रहे हैं.” Also Read - COVID-19 Curfew Extended in AP: आंध्र प्रदेश में मई के अंत तक कोरोना कर्फ्यू बढ़ाया गया

अखिलेश इससे पहले 15 साल की लड़की ज्योति को भी लाख रुपये देने की घोषणा कर चुके हैं, जिसने अपने बीमार पिता को साइकिल पर बिठाकर हरियाणा के गुरुग्राम से बिहार के दरभंगा तक का सफर तय किया. पिता को बैठाक 1600 किलोमीटर साइकिल खींचने वाली ज्योति जब मीडिया के मार्फत सुर्खियों में आई, तो उसके हौसले की हर तरफ चर्चा हुई. अखिलेश ने ज्योति की उस वायरल तस्वीर के साथ एक ट्वीट किया है, जिसमें उसे 1 लाख रुपये देने की बात है. उन्होंने लिखा, “सरकार से हारकर एक 15 वर्षीय लड़की निकल पड़ी है अपने घायल पिता को लेकर सैकड़ों मील के सफर पर.. दिल्ली से दरभंगा़ . आज देश की हर नारी और हम सब उसके साथ हैं. हम उसके साहस का अभिनंदन करते हुए उस तक 1 लाख रुपये की मदद पहुंचाएंगे.