लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश के इलाहाबाद जिले के केपी इंटरमीडिएट कालेज में एनसीसी के शिविर में सोमवार को विषाक्त भोजन खाने से 85 कैडेट बीमार हो गए. इस दौरान ज्‍यादा गंभीर 30 से अधिक छात्र-छात्राएं को तेज बहादुर सप्रू चिकित्सालय (बेली अस्पताल) में भर्ती कराया गया है. Also Read - हाथरस डीएम से इलाहाबाद कोर्ट ने पूछा- अगर तुम्हारी बेटी होती तब भी आधी रात में जला देते?

Also Read - एमपी: फूड प्‍वाइजनिंग से जज की नागपुर के अस्‍पताल में मौत, बेटे ने रास्‍ते में दम तोड़ा

  Also Read - प्रयागराज में एक ही परिवार के तीन सदस्‍यों की हत्‍या, मां, बाप और बेटी का गला रेता

इलाहाबाद के जिलाधिकारी सुहास एल.वाई. ने यहां बेली अस्पताल में संवाददाताओं को बताया कि केपी इंटरमीडिएट कालेज में चल रहे एनसीसी के कैंप में करीब 500 बच्चे शामिल थे. प्रथम दृष्टया उन्हें फूड प्वायजनिंग से डायरिया और डिहाइड्रेशन हुआ प्रतीत होता है. उन्होंने बताया कि करीब 30 बच्चे बेली अस्पताल में भर्ती हैं और कुछ बच्चों के एसआरएन में भर्ती होने की सूचना है. डाक्टरों का कहना है कि उनकी स्थिति गंभीर नहीं है और बच्चों के स्वास्थ्य पर पैनी नजर रखी जा रही है. जिलाधिकारी ने कहा कि सेना के अधिकारियों से भी बातचीत चल रही है और डाक्टरों एवं अन्य अधिकारियों को सचेत किया गया है.

शमी ने UP में क्रिकेट की सुविधाओं पर उठाए सवाल, ‘सहूलियत मिले तो निकलेंगे अच्‍छे खिलाड़ी’

एनसीसी के कैंप में 500 से अधिक बच्चे शामिल

बेली अस्पताल में जिलाधिकारी के अलावा मुख्य चिकित्साधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक और बड़ी संख्या में आला अधिकारी मौजूद हैं. अस्पताल में मौजूद एक छात्र ने कहा कि केपी कालेज ग्राउंड में एनसीसी के कैंप में 500 से अधिक बच्चे शामिल थे. एनसीसी के एक छात्र ने दावा किया कि फूड प्वायजनिंग की वजह से 70 से 80 बच्चे अचेत होकर गिर गए.