नई दिल्लीः दिल्ली से सटे नोएडा में एक बहुमंजिला इमारत के गिरने की खबर सामने आई है. हादसा नोएडा के सेक्टर 11 का है, जहां एक बहुमंजिला इमारत गिरने से बड़ा हादसा हो गया. घटना की सूचना मिलने पर मौके पर प्रशासन और राहत बचाव टीम पहुंची. इमारत के मलबे से पांच लोगों को निकाला गया जबकि इस हादसे में कुल दो लोगों की मौत हो गई.

आशंका जताई जा रही है कि और भी लोग मलबे के नीचे दबे हो सकते हैं. इस  हादसें में तीन लोग गंभीर रूप से घायल भी हुए जिन्हें पास के अस्पताल में इलाज के लिए भेजा गया. जानकारी के अनुसार हादसे का शिकार हुई इमारत निर्माणाधीन थी. अभी इस बारे में ठीक प्रकार से कोई पुख्ता जानकारी नहीं मिल पाई कि किन कारणों की वजह से इमारत ठही. सीएम योगी आदित्यनाथ ने घटना की जानकारी ली और नोएडा पुलिस कमिश्नर को घटना स्थल पर पहुंचने के लिए कहा.

घटना स्थल पर पुलिस प्रशासन, एनडीआरएफ, एंबुलेंस, फायर बिग्रेड की टीम मौजूद है. मलबे में दबे लोगों को निकालकर एंबुलेंस के जरिए जिला अस्पताल भेजा गया है, जहां सभी का इलाज जारी है. बताया जा रहा है कि घायलों में से एक की हालत गंभीर है.

घटना के बारे में जानकारी देते हुए डीसीपी संकल्प शर्मा ने कहा कि, मलबे में दबे चार लोगों को बाहर निकाला जा चुका है, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है. वहीं रेस्क्यू ऑपरेशन अभी भी जारी है. जिस जगह यह हादसा हुआ, वहां एक कंपनी की बिल्डिंग का निर्माण कार्य चल रहा था.

बिल्डिंग के आगे के हिस्से की शटरिंग गिर गई, जिससे यह हादसा हुआ है. घटना में घायल लोगों में एक महिला भी शामिल है. अन्य घायलों के साथ उसे भी जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया है, जहां फिलहाल सभी का इलाज जारी है. बिल्डिंग गिरने के कारणों का फिलहाल पता नहीं चल सका है, लेकिन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्नाथ ने मामले में संज्ञान लिया है और नोएडा पुलिस कमिश्नर को घटनास्थल का दौरा करने के निर्देश दिए हैं