नई दिल्ली: बसपा के पूर्व सांसद राकेश पांडेय के बेटे आशीष पांडेय ने गुरुवार को एक स्थानीय अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया. आशीष पर एक फाइव स्टार होटल में मेहमानों के सामने बंदूक लहराने और उन्हें धमकाने के आरोप हैं. वकील एस पी एम त्रिपाठी के जरिए दाखिल की गई आत्मसमर्पण अर्जी में कहा गया कि आशीष को प्राथमिकी में फंसाया गया है और उसके खिलाफ ‘मीडिया ट्रायल’ हो रहा है. अर्जी के मुताबिक, आशीष स्वेच्छा से अदालत के सामने आत्मसमर्पण करने के लिए तैयार है और पुलिस को जरूरत पड़ने पर उसे हिरासत में लेने के निर्देश दिए जा सकते हैं.

अदालत ने इस मामले में बुधवार को आशीष के खिलाफ गैर-जमानती वॉरंट जारी किया था. रविवार को हुई इस घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था. इसके बाद पुलिस ने कदम उठाया और फरार चल रहे आशीष की गिरफ्तारी की कोशिशें शुरू की.

5 स्टार होटल के बाहर कपल से इस तरह भिड़ गया पूर्व MP का बेटा, पिस्‍तौल लहराते हुए बोला- ‘लखनऊ से हूं देख लूंगा’

कोर्ट ने जारी किया था गैर जमानती वारंट
दिल्ली की एक अदालत ने एक पांच सितारा होटल के स्वागत कक्ष के बाहर कथित तौर पर पिस्तौल लहराने वाले बसपा के पूर्व सांसद के बेटे के खिलाफ बुधवार को गैर जमानती वारंट जारी किया गया था. पूर्व सांसद के बेटे का पिस्तौल लहराने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था. मेट्रोपॉलिटिन मजिस्ट्रेट अंबिका सिंह ने लखनऊ के रहने वाले बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के पूर्व सांसद राकेश पांडे के बेटे आशीष पांडे के खिलाफ वारंट जारी किया था. बता दें कि पुलिस ने हयात रीजेंसी होटल के सहायक सुरक्षा प्रबंधक की शिकायत के आधार पर एफआईआर दर्ज की थी.

दिल्ली पुलिस के अनुरोध पर अदालत ने वारंट जारी किया था. प्रबंधक ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया था कि होटल के पोर्च में एक मेहमान से विवाद के बाद एक शख्स ने पिस्तौल निकालकर धमकी दी थी. पुलिस ने अदालत को बताया कि जांच के दौरान घटना की सीसीटीवी फुटेज हासिल की गई और इसमें आरोपी की पहचान लखनऊ निवासी आशीष पांडे के तौर पर हुई थी.