गुवाहाटी: असम में एक बार फिर लोगों द्वारा नैतिकता के नाम पर कानून हाथ में लेकर अराजकता का मामला सामने आया है. एक महिला ने अपने बॉयफ्रेंड को मिलने के लिए घर बुला लिया. इससे गुस्साए लोगों ने महिला के घर पर हमला बोल दिया. महिला और शख्स को रात भर बंधक बनाकर जमकर पिटाई की. हैवानियत दिखाते हुए महिला के सिर के बाल मुड़ा कर गंजा कर दिया. दोनों के कपड़े फाड़ दिए. सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने दोनों को छुड़ाया. दोनों गंभीर रूप से घायल हैं. इन्हें भर्ती कराया गया है. Also Read - Video: बोर न हों कोरोना के मरीज, पीपीई किट में डॉक्टर ने 'घुंघरू' गाने पर किया जबरदस्त डांस

दोनों को बंधक बनाकर पीटा
मामला असम के नगांव जिले में के झुमुरमुर इलाके की है. बताया जा रहा है कि गांव में एक महिला ने अपने प्रेमी को मिलने के लिए घर बुला लिया. गांववालों को इसकी भनक लग गई. उन्होंने महिला के घर पर धावा बोल दिया. महिला और शख्स दोनों को घर से बाहर निकाल लिया. दोनों को गांव में ही बंधक बना लिया. रात भर बंधक बनाए रखने के दौरान दोनों के साथ जमकर मारपीट की. इतना ही नहीं गांव के लोगों ने महिला के सिर के बाल भी मुड़ा दिए. उसे गंजा कर अपमानित किया. Also Read - हिंसक झड़प के बाद असम और मिजोरम के मुख्यमंत्रियों ने की फोन पर बात, केंद्र ने बुलाई आपात बैठक

नैतिकता के नाम पर बदसुलूकी, पुलिस ने छुड़ाया
अगले दिन सुबह सूचना मिलने पर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची. पुलिस ने दोनों को छुड़ा लिया. पुलिस के मुताबिक दोनों गंभीर घायल थे. उन्हें इलाजे के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया. यहां से उन्हें भोगेश्वरी फुकनानी सिविल अस्पताल में भर्ती कर दिया गया. एएसपी रिपुल दास ने बताया कि गांव वालों ने नजायज प्रेम संबंधों के चलते नैतिकता के नाम पर दोनों के साथ बदसलूकी की है. मामले की जांच की जा रही है. इसके बाद गांव वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. Also Read - असम में बंद होंगे मदरसे और संस्कृत केन्द्र, नवंबर में जारी की जाएगी अधिसूचना

इससे पहले भी कपल को पीटा था
असम में इससे पहले भी ऐसी घटनाएं हुई हैं. 18 जून को एक कपल बाइक पर जा रहा था. इसी दौरान कुछ लोगों ने उन्हें पकड़ लिया और जमकर पिटाई की. गांव के लोगों का कहना है कि दोनों अविवाहित थे, इसलिए उनके साथ ऐसा किया गया. इससे पहले नीलोत्पल दास और अभिजित नाथ नामक दोस्तों को जमकर पीटा था. दोनों पिकनिक मनाने गए थे. गांव वालों का आरोप था कि दोनों ने एक बच्चे
को अगवा कर मार दिया.