लखनऊ: अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाले भारतीय जनता पार्टी के विधायक सुरेंद्र सिंह एक बार फिर चर्चा में हैं. इस पर वे पांच राज्‍यों में हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी के प्रदर्शन पर दिए बयान को लेकर चर्चा में हैं. उन्‍होंने पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में भाजपा के खराब प्रदर्शन का ठीकरा एससी/एसटी कानून में संशोधन पर फोड़ा है.

भाजपा के बैरिया क्षेत्र से विधायक ने मंगलवार को पत्रकारों से कहा कि भाजपा सवर्णों का अपमान करके जीत का सफर तय नहीं कर सकती. उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार का एससी / एसटी कानून में संशोधन का निर्णय आत्मघाती था. उन्होंने कहा कि चुनाव परिणाम अपेक्षा के अनुरूप ही हैं. उन्होंने इसके साथ ही कहा कि जनता ने भाजपा को आंशिक सबक दिया है. भाजपा ने एससी, एसटी कानून पर अपने निर्णय पर पुनर्विचार कर सुधार नहीं किया तो लोकसभा चुनाव में भी भाजपा को नुकसान उठाना पड़ेगा. उन्होंने कहा कि सवर्ण वर्ग भाजपा का परम्परागत मतदाता है और जो अपनों को छोड़ कर पराए पर विश्वास करता है तो अपना भी चला जाता है और पराया भी.

Assembly Elections 2018 Result Live Update: रुझानों में मध्य प्रदेश में भाजपा को बढ़त, राजस्थान में कांग्रेस को बहुमत

मध्‍यप्रदेश, राजस्‍थान और छत्‍तीसगढ़ में थी बीजेपी की सरकार
बता दें कि पांच राज्यों मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम में मंगलवार सुबह वोटों की गिनती शुरू हो गई. अभी तक जो रुझान आए हैं उसके मुताबिक, तीन राज्‍यों मध्‍यप्रदेश, राजस्‍थान और छत्‍तीसगढ़ में कांग्रेस ने बढ़त बनाई है. ऐसे में यहां पर बीजेपी बहुमत से दूर है. छत्तीसगढ़ की कुल 90, मध्य प्रदेश की 230, राजस्थान की कुल 199 (एक उम्मीदवार के निधन के कारण एक सीट पर वोटिंग नहीं हुई थी), तेलंगाना की 119 और मिजोरम की कुल 40 सीटों के लिए वोट डाले गए थे. सभी सीटों पर सुबह 8 बजे से मतगणना चल रही है.