Ayodhya, Ram Temple, UP, News: उत्‍तर प्रदेश की धार्मिक नगरी अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर (Ram Temple) परिसर का विस्तार 70 एकड़ से बढ़ाकर 107 एकड़ करने की योजना के तहत ‘राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र’(Shri Ram Janmabhoomi Teerth Kshetra Trust) ने राम जन्मभूमि परिसर ( Ram Temple premises Area) के पास 7,285 वर्ग फुट जमीन खरीदी है. ट्रस्ट के एक अधिकारी ने बृहस्पतिवार को इस बारे में बताया. सूत्रों के मुताबिक, ट्रस्ट विस्तारित भव्य मंदिर परिसर का निर्माण 107 एकड़ में करना चाहता है और इसके लिए उसे अभी 14,30,195 वर्ग फुट जमीन और खरीदनी होगी.Also Read - UP Budget 2022-23: योगी सरकार 2.0 का पहला बजट आज, चुनावी वादों पर निगाहें

अधिकारी ने बताया कि उत्तर प्रदेश के प्रसिद्ध शहर में भव्य मंदिर का निर्माण कर रहे ट्रस्ट ने 7,285 वर्ग फुट जमीन की खरीद के लिए 1,373 रुपए प्रति वर्ग फुट की दर से एक करोड़ रुपए का भुगतान किया है. Also Read - देश के 6 राज्यों में 3 लोकसभा और 7 विधानसभा सीटों के लिए उपचुनाव 23 जून को होंगे

7,285 वर्ग फुट भूमि की रजिस्ट्री कराई 
फैजाबाद के उप-पंजीयक एसबी सिंह ने बताया कि जमीन के मालिक दीप नरैन ने ट्रस्ट के सचिव चंपत राय के पक्ष में 7,285 वर्ग फुट भूमि की रजिस्ट्री के दस्तावेजों पर 20 फरवरी को हस्ताक्षर किए. मिश्रा और अपना दल के विधायक इंद्र प्रताप तिवारी ने गवाह के तौर पर दस्तावेजों पर हस्ताक्षर किए. Also Read - आशीष मिश्रा को क्या हाईकोर्ट से फिर मिलेगी बेल, 30 मई को जमानत याचिका पर होगी सुनवाई

राम मंदिर ट्रस्ट ने पहली बार जमीन खरीदी 
फैजाबाद के उप-पंजीयक एसबी सिंह के कार्यालय में ही यह रजिस्ट्री की गई. तिवारी ने कहा, ”राम मंदिर ट्रस्ट द्वारा पहली बार जमीन खरीदने की प्रक्रिया का हिस्सा बन भाग्यशाली महसूस कर रहा हूं.”

राम मंदिर के निर्माण के लिए और जगह चाहिए
न्यासी अनिल मिश्रा ने कहा, ”हमने यह जमीन खरीदी है, क्योंकि राम मंदिर के निर्माण के लिए हमें और जगह चाहिए थी.” ट्रस्ट द्वारा खरीदी गई यह जमीन अशरफी भवन के पास स्थित है. अभी 14,30,195 वर्ग फुट जमीन और खरीदनी होगी.

भव्य मंदिर परिसर  107 एकड़ में करने का प्‍लान 
सूत्रों के अनुसार, ट्रस्ट की योजना अभी और जमीन खरीदने की है. राम मंदिर परिसर के पास स्थित मंदिरों, मकानों और खाली मैदानों के मालिकों से इस संबंध में बातचीत जारी है. सूत्रों ने बताया कि ट्रस्ट विस्तारित भव्य मंदिर परिसर का निर्माण 107 एकड़ में करना चाहता है और इसके लिए उसे अभी 14,30,195 वर्ग फुट जमीन और खरीदनी होगी.

बता दें कि मुख्य मंदिर का निर्माण पांच एकड़ जमीन पर किया जाएगा और बाकी जमीन पर संग्रहालय और पुस्तकालय आदि जैसे केंद्र बनाए जाएंगे.