बहराइच: उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले के पूर्व विधायक और सपा के वरिष्ठ नेता शब्बीर अहमद वाल्मीकि के बेटे तथा जिला पंचायत सदस्य संजय वाल्मीकि उर्फ शेबू ने पत्नी से हुए विवाद के बाद गुरूवार को अपने लाइसेंसी रिवाल्वर से खुद को गोली मारकर कथित रूप से आत्महत्या कर ली. फिलहाल पुलिस मामले की तफ्तीश कर रही है.

सीतापुर: नगर-पालिका का अधिशाषी अधिकारी 1 लाख की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा गया

पत्नी नाराज होकर मायके चली गई थी
बताते हैं कि शब्बीर वाल्मीकि का परिवार जनपद की राजनीति में विशेष स्थान रखता है. मृतक संजय के पिता शब्बीर अहमद वाल्मीकि समाजवादी पार्टी के बड़े नेता के तौर पर पहचाने जाते हैं. वो बहराइच की चरदा विधान सभा सीट से चार बार विधायक भी रह चुके हैं और पिछले दो लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी भी रहे हैं हालांकि इसमें उन्हें सफलता नहीं मिली. मृतक संजय के एक भाई नदीम ‘मन्ना ‘ वर्तमान में जिला पंचायत बहराइच के अध्यक्ष हैं और एक और भाई आजम जिला पंचायत सदस्य हैं जबकि उनकी बहन इरम पूर्व ब्लॉक प्रमुख रह चुकी हैं.

राजा भैया की नई राजनीतिक पार्टी का ऐलान, SC/ST कानून, प्रमोशन में आरक्षण का करेंगे विरोध

बेटे की मौत पर समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता शब्बीर अहमद ने बताया कि उनके बेटे और बहू के बीच विवाद हुआ था जिसके बाद उनकी बहू नाराज होकर मायके चली गयी थी. बुधवार को संजय जब उसे लिवाने मायके गया तो उसने आने से इंकार कर दिया. इस पर संजय ने खुद को गोली मार लेने की धमकी दी थी जिसे बहू ने अनसुना कर दिया. उन्होंने कहा कि घर लौटकर 14/15 की दरमियानी रात परेशान संजय ने खुद को गोली मार ली. गोली की आवाज सुनकर पहुंचे परिवारीजन आनन-फानन में उसे लेकर अस्पताल पहुंचे जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया.

सोशल मीडिया पर सीएम योगी व RSS के खिलाफ विवादित पोस्ट, 5 लोगों पर FIR, 1 अरेस्ट

अपर पुलिस अधीक्षक अजय प्रताप सिंह ने इस बाबत जानकारी देते हुए शुक्रवार को बताया कि शहर के कासिमपुरा मोहल्ले में जिला पंचायत सदस्य संजय बाल्मीकि उर्फ शेबू (32) का आवास है. संजय के पास 32 बोर की लाइसेंसी रिवाल्वर है जिसकी गोली लगने से संजय की मौत हुई है. गुरूवार को शव का पोस्टमार्टम कराया गया था. एएसपी ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद उचित कार्रवाई की जाएगी. फिलहाल पुलिस पूरे मामले की छानबीन में जुटी हुई है. (इनपुट एजेंसी)