बलरामपुर: उत्तर प्रदेश के हाथरस में हुई मासूम के साथ दरिंदगी का मामला शांत नहीं हो पाया था कि इसी बीच बलरामपुर में 22 वर्षीय छात्रा के साथ सामूहिक दुष्कर्म के बाद मौत हो गयी. इस मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस अधीक्षक देवरंजन वर्मा ने बताया कि मामला कोतवाली क्षेत्र का है. यहां मृतका के भाई ने तहरीर में कहा है कि उसकी बहन के साथ दो लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया. पीड़िता की जब तबीयत ज्यादा खराब हुई तो रिक्शा से घर भेज दिया. उस समय उसकी हालत ठीक नहीं थी. परिवार के लोग उसे लेकर आनन फानन में अस्पताल के लिए निकले, लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गई. Also Read - पहल: इस राज्य में अंग प्रत्यारोपण और अंगदान हुआ आसान, पढ़ें पूरी डिटेल

पुलिस ने गैंपरेप और हत्या का केस दर्ज किया है. पुलिस ने मामले में छानबीन की और दोंनो अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया गया है. पोस्टमार्टम में हाथ-पांव तोड़ने आदि की कोई पुष्टि नहीं हुई है. जिलाधिकारी बलरामपुर कृष्णा करुणेश व पुलिस अधीक्षक देवरंजन वर्मा ने देवीपाटन मंदिर तुलसीपुर के महंत मिथिलेश नाथ योगी के साथ पीड़ित परिवार के घर जाकर उनको सांत्वना दी. उनको पुलिस द्वारा की गई त्वरित कार्रवाई और आरोपियों की गिरफ्तारी के संबंध में अवगत करवाया. परिजनों को भरोसा दिलाया गया कि पूरी विवेचना को शीघ्र निस्तारित करवाकर अभियुक्तों को प्रभावी पैरवी के द्वारा सजा दिलवाई जाएगी. Also Read - सपा को 'सबक' सिखाने के लिए भाजपा के साथ चलेगी बसपा, जानिए मायावती ने क्यों किया इतना बड़ा ऐलान

पीड़िता के परिजनों को महंत जी के हाथों से 6 लाख 18 हजार रुपए की मुआवजा राशि का अनुमति पत्र प्रदान किया गया. यह मुआवजा राशि गुरुवार दोपहर तक विधिक प्रक्रिया पूर्ण करके पीड़िता की माता के बैंक एकाउंट में भेज दी जाएगी. जनपद और शासन स्तर से जो भी सहायता होगी, वह दी जाएगी. Also Read - जश्‍न में फायरिंग: लोक गायक व एक्‍टर गोलू राजा को सीने में लगी गोली, BJP नेता पर केस दर्ज