बांदा: यूपी के बांदा जिले की तिंदवारी सीट से बीजेपी विधायक ब्रजेश कुमार प्रजापति ने पुलिस अधीक्षक पर हत्या की साजिश का आरोप लगाया है. उनका कहना है कि एसपी गोली मरवाकर या एक्सीडेंट कराकर उनकी हत्या करा सकती हैं. इन आरोपों और विवादों के पीछे कई वजहें बताई जा रही हैं. Also Read - Film City in UP: यूपी सरकार का ऐलान, राज्य के इन क्षेत्रों में बनेगी फिल्म सिटी, मिलेगा रोजगार को बढ़ावा

Also Read - Sarkari Naukri in UP: योगी सरकार का बड़ा फैसला, 3 महीने में भरे जाएंगे रिक्त पड़े सरकारी पद, 6 महीने के अंदर मिलेगा ज्वॉइनिंग लेटर

23 जून को समन्वय समिति में सम्मान नहीं देने का लगाया था आरोप Also Read - UP: स्‍टोन व्यवसायी के मर्डर से जुड़े 5 ऑडियो लीक, IPS, IAS और नेताओं के Nexus का खुलासा

दरअसल, विवाद कुछ दिन पहले शुरू हुआ. बताया जा रहा है कि 23 जून को बांदा में समन्वय समिति की मीटिंग थी. यहां तिंदवारी विधायक ब्रजेश प्रजापति को भी बुलाया गया था. इस दौरान बीजेपी विधायक ने आरोप लगाया था कि उन्हें जिस कुर्सी पर बैठाया गया, वह साधारण थी. कुर्सी ऊंची नहीं थी. इसके साथ ही विधायक का कहना था कि एसपी शालिनी जब मीटिंग में आईं तो वह पहले से मौजूद थे. 40 मिनट से देरी से आईं एसपी शालिनी ने उनका अभिवादन भी नहीं किया. इसे लेकर बीजेपी विधायक ने 25 जून को सीएम योगी आदित्यनाथ को पत्र भी लिखा था कि अधिकारियों द्वारा प्रोटोकॉल का पालन नहीं हो रहा है. इसके साथ ही उन्होंने फेसबुक पर भी पोस्ट डाला था. इस मीटिंग में बांदा डीएम दिव्य प्रकाश गिरी भी पहुंचे थे.

यूपी: BJP विधायक को जिले की एसपी से जान का खतरा, कहा- गोली या एक्सीडेंट से करा सकती हैं हत्या

विधायक ने फेसबुक पर फिर डाली ये पोस्ट

30 जून (शनिवार) को विधायक ने कहा कि उन्हें एसपी शालिनी से जान को खतरा है. उन्होंने एक बार फिर इसे लेकर ‘फेसबुक’ अकाउंट पर पोस्ट डाली, जिसमें उन्होंने एसपी शालिनी पर अवैध बालू खनन कराने और बालू माफियाओं को उकसा कर दो बार सड़क दुर्घटना करवा कर खुद की हत्या करवाने की नाकाम कोशिश करने का भी आरोप लगाया है. विधायक ने सोशल मीडिया में अपनी इस पोस्ट के साथ गत दो फरवरी को अपने लेटर पैड पर पुलिस अधीक्षक के खिलाफ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भेजे गये पुराने शिकायती पत्र को भी पोस्ट किया है. विधायक प्रजापति ने अपनी फेसबुक पोस्ट में कहा ‘‘लम्बे समय से पुलिस अधीक्षक बांदा शालिनी मेरी हत्या की साजिश रच रही हैं. गोली मारने के साथ वो एक्सीडेंट में भी मेरी हत्या करा देना चाहती थीं. दो बार एक्सीडेंट की कोशिश की, पर असफल हुईं. मेरे साथ कभी भी कुछ भी हो सकता हैं और उसकी जिम्मेदार पुलिस अधीक्षक शालिनी और उनके चहेते बालू माफिया होंगे.’

खनन माफियाओं पर कार्रवाई कर रहीं एसपी शालिनी

वहीं, बताया जा रहा है कि बांदा एसपी शालिनी कुछ समय से यहां खनन माफियाओं के खिलाफ अभियान चला रही हैं. कुछ दिन पहले उन्होंने बालू से भरे कई ट्रैक्टर पकड़े और कार्रवाई की. वहीं, बीजेपी विधायक ने आरोप लगाया कि एसपी खनन माफियाओं को बचाती हैं. वह खनन माफियाओं से रुपए लेती हैं. फिलहाल, एसपी शालिनी ने इस मामले में कुछ भी कहने से इंकार कर दिया है. उनका कहना है कि बोलने से विवादों को हवा मिलेगी. उनसे जब शासन द्वारा जवाब मांगा जाएगा, तब वह अपना पक्ष रखेंगीं. बीजेपी विधायक ब्रजेश प्रजापति भी इस मामले की जानकारी चाह रहे पत्रकारों का फोन नहीं उठा रहे हैं.