बांदा: यूपी के बांदा जिले के सरकारी अस्पताल में मंगलवार रात कुछ शराबी युवक एक चिकित्सक के साथ मारपीट करते रहे. सीएमएस ने घटना की शिकायत करने के लिए पुलिस अधीक्षक व जिलाधिकारी को फोन किया, लेकिन दोनों के फोन बहुत देर तक बजते रहे, मगर कोई जवाब नहीं मिला.

भुवनेश्वर ने पाक के दोनों सलामी बल्लेबाज भेजे पवेलियन, पिता बोले- भुवी टीम की जान है, मैच जिताएगा

मुख्य चिकित्सा अधीक्षक (सीएमएस) डॉ. किशोरीलाल ने बुधवार को बताया, “मंगलवार रात करीब चार-पांच शराबी युवक एक मरीज को लेकर आपातकालीन वार्ड पहुंचे और वहां तैनात चिकित्सक डॉ. अभिशेष को अकारण पीटने लगे. इस बीच पुलिस अधीक्षक और जिलाधिकारी को लगातार कई फोन किए गए, लेकिन दोनों अधिकारियों ने अपना सरकारी (सीयूजी) फोन नहीं उठाया. घटना के लगभग एक घंटे बाद पुलिस क्षेत्राधिकारी (नगर) राघवेन्द्र सिंह अस्पताल पहुंचे, तब तक उपद्रवी भाग चुके थे.’

जानिए कौन है दो साल का खजांची, जिसके लिए अब साइकिल यात्रा तक टाल रहे अखिलेश

पुलिस क्षेत्राधिकारी (नगर) राघवेंद्र सिंह ने बताया कि ‘जब उन्हें सूचना मिली तो वह तत्काल अस्पताल पहुंचे, लेकिन उन्हें वहां कोई नहीं मिला.’ पुलिस अधीक्षक एस.आनंद ने कहा कि मंगलवार रात उनका फोन उनके पास नहीं था, सरकारी जीप में ही छूट गया था. इसलिए सीएमएस का फोन रिसीव नहीं हुआ.’ जिलाधिकारी हीरालाल ने बताया, “उनका सरकारी फोन अक्सर अर्दली के पास रहता है. काम की व्यस्तता के चलते वह फोन अपने पास नहीं रखते, इसलिए फोन नहीं उठा होगा. बुधवार को जब घटना की जानकारी मिली तो पुलिस को कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है और पुलिस फूटेज खंगाल रही है.