बांदा: उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में शुक्रवार को एक महिला ने अपने दो साल के मासूम बेटे को गोद में लेकर आग लगाकर आत्महत्या कर ली. मायके पक्ष ने कथित तौर पर दहेज उत्पीड़न का आरोप लगाया है. पुलिस ने बताया कि घटना की रिपोर्ट दर्ज की जा रही है. आरोपी ससुरालीजन गायब हैं. उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. Also Read - Railway and Flights Rules and Regulations: 1 जून से बदलने वाले हैं रेलवे, बस और फ्लाइट्स के ये नियम, बरतनी होगी सावधानी

Also Read - कल से देशभर में लागू होने जा रही है One Nation One Ration Card योजना, जानिए आपको क्या मिलेगा फायदा

यूपी: दहेज़ उत्पीड़न केस की काउंसलिंग से लौट रही महिला पर पति ने किया एसिड अटैक, बहन भी झुलसी Also Read - Weather Report: बारिश ने उत्तर और पश्चिम भारत में गर्मी से दिलाई राहत, यूपी में 13 लोगों की मौत, सीएम ने मुआवजे का किया ऐलान

थानाध्यक्ष प्रकाश यादव ने शनिवार को बताया कि शुक्रवार को पंकज मिश्रा की पत्नी सपना (25) ने अपने दो साल के मासूम बेटे शेखर को गोद में लेकर शरीर पर किरोसिन तेल छिड़क कर आग लगा ली, जिससे महिला की मौके पर ही मौत हो गई जबकि मासूम बेटे ने देर रात इलाज के दौरान सरकारी अस्पताल में दम तोड़ दिया.

महिला ने तीन बच्चों को लेकर कुएं में कूदकर दे दी जान, दहेज उत्पीड़न से थी परेशान

उन्होंने बताया कि मृतका की मां लीला और भाई गुरुप्रसाद ने दहेज उत्पीड़न के चलते आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया है. मृतका की शादी 12 फरवरी, 2013 को हुई थी, पंकज नशे का लती है. थानाध्यक्ष ने बताया कि पोस्टमॉर्टम की रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है. मृतका के ससुराल के सभी सदस्य गायब हैं.