लखनऊ: यूपी के बरेली जिले में पहुंचे केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री शिव प्रताप शुक्ला ने कहा कि भाजपा के लिए राम मंदिर चुनावी मुददा नहीं है और ना ही यह मुद्दा बीजेपी के लिए कभी चुनावी मुद्दा रहा है. उन्होंने कहा कि राम मंदिर भाजपा और हिंदुओं की आस्था का प्रतीक है. भाजपा की मंदिर में आस्था है लेकिन यह चुनावी मुद्दा नहीं होगा. साथ ही उन्‍होंने महागठबंधन पर निशाना साधते हुए कहा कि 2019 में बीजेपी की पूर्ण बहुमत वाली सरकार बनेगी. विपक्ष चाहे जितने गठबंधन बना लें.

बरेली जिले में सर्किट हाउस पहुंचे केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री शिव प्रताप शुक्ला ने कहा कि राम मंदिर कभी भी भाजपा का चुनावी मुद्दा नहीं रहा और लोकसभा चुनाव 2019 में भी नहीं रहेगा. उन्होंने कहा कि यह सवाल हवा में नहीं उछाला जा सकता इसको उछालकर मजाक का विषय नहीं बनाया जा सकता. उन्होंने कहा कि राम मंदिर आस्था का केंद्र है. इसे कोर्ट या आपसी सहमती से ही सुलझाया जा सकता है.

370 भी कभी नहीं रहा भाजपा का मुद्दा
इस दौरान केंद्रीय वित्‍त राज्‍यमंत्री शिव प्रताप शुक्‍ला ने धारा 370 के मुद्दे पर कहा कि यह भी कभी चुनावी मुद्दा नहीं रहा है. कहा कि 370 पर विश्लेषण होना चाहिए और हम जम्मू कश्मीर में इस पर विश्लेषण करवा रहे है. केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री शिव प्रताप शुक्ला ने यूपीए सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि आज जो एनपीए(NPA) है हम उसे स्वीकार करते है. आज जो एनपीए की देन है वह यूपीए की वजह से ही है. यूपीए सरकार ने जिसको चाहा उसे लोन दिलाने का काम किया. लेकिन आज हम लोग जरूरतमन्दों को लोन दे रहे हैं.

नहीं बंद होगा 2000 रुपये का नोट
बरेली में पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए केंद्रीय वित्‍त राज्‍यमंत्री ने कहा कि नोटबंदी के दौरान जारी किए गए दो हजार रुपये के नोट कभी बंद नहीं किए जाएंगे. नोट को बंद करने को लेकर जो भी अफवाहें हैं, वो सब बेबुनियाद हैं. साथ ही उन्‍होंने डिजिटल ट्रांजेक्शन को बढ़ावा देने की बात कही.