बरेली (यूपी): बरेली का बहुचर्चित कपल एक बार फिर चर्चा में है. विवादों और बवाल के बीच बीजेपी विधायक राजेश मिश्रा की बेटी से लव मैरिज करने वाले अजितेश एक बार फिर मुश्किल में फंस गए हैं. इस बार एक राहगीर शख्स को पीटने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया, बल्कि अजितेश को पुलिस ने अरेस्ट कर जेल भी भेज दिया है. Also Read - कानपुर एनकाउंटर: संदिग्‍ध भूमिका को लेकर चौबेपुर एसओ विनय तिवारी सस्‍पेंड

अजितेश और साक्षी ने पिछले साल जुलाई में तब सुर्खियां बटोरी थीं. अजितेश ने यूपी के विधायक राजेश मिश्र की बेटी साक्षी मिश्रा के साथ शादी कर ली थी. साक्षी घर से भाग गई थी. इसके बाद इस लेकर खूब हंगामा हुआ था. साक्षी ने कहा था कि उनकी जान को पिता से ख़तरा है. एक बार फिर ये दंपत्ति चर्चा में है. बरेली जिले के प्रेम नगर इलाके में मामूली सड़क हादसे के बाद एक युवक की पिटाई करने और उसका मोबाइल छीनने के आरोप में शनिवार को भाजपा विधायक राजेश मिश्रा के दामाद अजितेश और उसके दोस्त को गिरफ्तार कर लिया गया है. Also Read - कानपुर में 8 पुलिस‍कर्मियों की हत्‍याओं में फरार कुख्‍यात अपराधी विकास दुबे का घर JCB से गिराया

अजितेश की शादी विधायक की बेटी साक्षी से हुई है. दोनों ने पिछले साल शादी की थी. पुलिस के मुताबिक, एक युवक अपने दोस्त के पिता के लिए दवाइयां खरीदने के बाद घर जा रहा था, तभी उसकी बाइक ने अजितेश की एसयूवी को टक्कर मार दी. अजितेश और उसके दोस्त ने युवक की पिटाई की और उसका मोबाइल छीन लिया. पुलिस ने कहा कि अजितेश और उसके दोस्त वैभव गंगवार के खिलाफ आईपीसी की धारा 394 (स्वेच्छा से लूट करने में चोट पहुंचाना) और अन्य संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था. दोनों को जेल भेज दिया गया है. Also Read - Kanpur Shootout Case: तेज हुई पुलिस की कार्रवाई, इस थाने के थानेदार पर SIT को मुखबिरी का शक, 500 नंबर भी हो रहे ट्रेस

शिकायतकर्ता दीपांशु माहेश्वरी ने कहा, “जब मैंने अजितेश की कार को ओवरटेक किया, तो उसने पीछा किया और मुझे रास्ते के बीच में रोक दिया. इसके बाद, उसने और उसके दोस्त ने मेरी पिटाई की और मेरा फोन छीन लिया. एसएचओ बलबीर सिंह और उनकी टीम ने मुझे बचाया.”

एसएचओ ने कहा, “हमने सीसीटीवी फुटेज की जांच की और गवाहों से बात की ताकि पता चल सके कि अजितेश और उसके दोस्त ने युवक को पीटा था. संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था और शनिवार को मजिस्ट्रेट के सामने पेश करने के बाद दोनों को जेल भेज दिया गया. युवक को अस्पताल में भर्ती कराया गया है और उसकी हालत स्थिर है.” साक्षी के अजितेश से शादी करने के बाद भाजपा विधायक ने अपनी बेटी साक्षी के साथ अपने सभी संबंध खत्म कर लिए थे.