बरेली (यूपी): बरेली का बहुचर्चित कपल एक बार फिर चर्चा में है. विवादों और बवाल के बीच बीजेपी विधायक राजेश मिश्रा की बेटी से लव मैरिज करने वाले अजितेश एक बार फिर मुश्किल में फंस गए हैं. इस बार एक राहगीर शख्स को पीटने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया, बल्कि अजितेश को पुलिस ने अरेस्ट कर जेल भी भेज दिया है.Also Read - UP Police SI Result : यूपी पुलिस एसआई भर्ती परीक्षा का परिणाम जल्‍द, uppbpb.gov.in पर ऐसे कर सकेंगे चेक

अजितेश और साक्षी ने पिछले साल जुलाई में तब सुर्खियां बटोरी थीं. अजितेश ने यूपी के विधायक राजेश मिश्र की बेटी साक्षी मिश्रा के साथ शादी कर ली थी. साक्षी घर से भाग गई थी. इसके बाद इस लेकर खूब हंगामा हुआ था. साक्षी ने कहा था कि उनकी जान को पिता से ख़तरा है. एक बार फिर ये दंपत्ति चर्चा में है. बरेली जिले के प्रेम नगर इलाके में मामूली सड़क हादसे के बाद एक युवक की पिटाई करने और उसका मोबाइल छीनने के आरोप में शनिवार को भाजपा विधायक राजेश मिश्रा के दामाद अजितेश और उसके दोस्त को गिरफ्तार कर लिया गया है. Also Read - Prayagraj Students Beaten Entering Hostel: प्रयागराज में पुलिस ने हॉस्टल में घुसकर छात्रों को पीटा, अखिलेश यादव और प्रियंका गांधी ने CM योगी को घेरा

अजितेश की शादी विधायक की बेटी साक्षी से हुई है. दोनों ने पिछले साल शादी की थी. पुलिस के मुताबिक, एक युवक अपने दोस्त के पिता के लिए दवाइयां खरीदने के बाद घर जा रहा था, तभी उसकी बाइक ने अजितेश की एसयूवी को टक्कर मार दी. अजितेश और उसके दोस्त ने युवक की पिटाई की और उसका मोबाइल छीन लिया. पुलिस ने कहा कि अजितेश और उसके दोस्त वैभव गंगवार के खिलाफ आईपीसी की धारा 394 (स्वेच्छा से लूट करने में चोट पहुंचाना) और अन्य संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था. दोनों को जेल भेज दिया गया है. Also Read - UP Police HO Recruitment: यूपी पुलिस में हेड ऑपरेटर के पद पर आई बंपर भर्ती, आवेदन शुरू, जानें कैसे करें आवेदन

शिकायतकर्ता दीपांशु माहेश्वरी ने कहा, “जब मैंने अजितेश की कार को ओवरटेक किया, तो उसने पीछा किया और मुझे रास्ते के बीच में रोक दिया. इसके बाद, उसने और उसके दोस्त ने मेरी पिटाई की और मेरा फोन छीन लिया. एसएचओ बलबीर सिंह और उनकी टीम ने मुझे बचाया.”

एसएचओ ने कहा, “हमने सीसीटीवी फुटेज की जांच की और गवाहों से बात की ताकि पता चल सके कि अजितेश और उसके दोस्त ने युवक को पीटा था. संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था और शनिवार को मजिस्ट्रेट के सामने पेश करने के बाद दोनों को जेल भेज दिया गया. युवक को अस्पताल में भर्ती कराया गया है और उसकी हालत स्थिर है.” साक्षी के अजितेश से शादी करने के बाद भाजपा विधायक ने अपनी बेटी साक्षी के साथ अपने सभी संबंध खत्म कर लिए थे.