लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले की सरधना सीट से भाजपा विधायक संगीत सोम ने कहा है कि अयोध्या के विवादित स्थल पर पहले भी मंदिर था, आज भी मंदिर है और अगले साल होने वाले आम चुनाव के पहले भव्य मंदिर बनेगा. विधायक संगीत सोम ने एक बार फिर से राम मंदिर बनाए जाने के नारे को बुलंद करते हुए सभी हिंदुओं को एकजुट तथा एक साथ रहने का आह्वान किया.

बुलंदशहर हिंसा: यूपी सरकार के कैबिनेट मंत्री ओपी राजभर बोले- योगी के लोग ही कर रहे हमला

संगीत सोम ने मेरठ में आयोजित संवाददाता सम्मेलनल को संबोधित करते हुए कहा कि मंदिर वहीं बनेगा जहां से देशवासियों की विशेष तौर से हिंदुओं की आस्था जुड़ी हुई है. मुख्यमंत्री योगी के हनुमान जी के बारे में दिये गए बयान से उपजे विवाद पर भाजपा विधायक ने कहा कि उनका बयान गलत तरीके से लिया जा रहा है, उनके कहने का आशय कुछ और था जिसे अलग-अलग ढंग से लोग व्याख्या कर रहे हैं. मंदिरों पर हर हिंदू भाई का अधिकार है और सभी हिंदू एक हैं. इसलिए आपस में मंदिर को लेकर कोई झगड़ा कहीं है ही नहीं. यही एकता राम मंदिर में भी दिखानी होगी.

 

अखलाक को मुआवजा दिया तो सुमित को देने में क्‍या हर्ज: सोम
बुलंदशहर में हुई घटना से संबंधित सामने आ रहे वीडियो में सुमित के हाथ में पत्थर दिखने पर सवाल किया गया कि उसे सरकार मुआवजा क्यों दे रही है, इस पर संगीत ने कहा कि इस मामले में दोषियों पर सख्त कार्रवाई होगी लेकिन क्या नोएडा के बिसाहड़ा में हुए इकलाख को मुआवजा दिए जाने के मामले में इस तरह सवाल उठे थे. उन्होंने कहा कि जो भी अखलाक मामले में दोषी हैं उन सभी को सजा मिलनी चाहिए. लेकिन यह याद रखना चाहिए कि अखलाक के घर में गोवंश पाया गया था. उन्होंने यह भी कहा कि अखलाक को मुआवजा दिया गया तो सुमित को देने में क्या हर्ज है. उन्होंने कहा कि बलुंदशहर बवाल गोकशी का मामला है, इसे दंगा कहना उचित नहीं है.