आगरा: शहर में बुधवार रात को एक दलित परिवार को कथित तौर पर घर में आग लगाकर जिंदा जलाने का प्रयास किया गया. पीडि़त परिवार राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष और भाजपा सांसद डॉ रामशंकर कठेरिया की भतीजी उमा कठेरिया का है.

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि वारदात आवास विकास कॉलोनी के सेक्टर 11 में बुधवार देर रात करीब डेढ़ बजे की है. जानकारी मिलने के बाद पुलिस प्रशासन के आला अधिकारियों में खलबली मच गयी. आग से झुलसे लोगों को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है. परिजनों को बचाने के लिए छत से कूदी कठेरिया की भतीजी को भी गंभीर चोटें आई हैं.

मेरठ: छात्रा के बाद अब उसके दोस्‍त की पिटाई, VIDEO वायरल होने पर VHP कार्यकर्ताओं के खिलाफ मुकदमा

थाना सिकंदरा के निरीक्षक अजय कौशल ने बताया कि आग लगाने के आरोपी संजय शर्मा को पुलिस ने पकड़ लिया है. संजय ने पैसे के लेनदेन के चक्कर में आग लगाई थी. पुलिस ने उसके खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया है.

‘मस्जिद इस्लाम का अभिन्न अंग है या नहीं’ संविधान पीठ के पास केस भेजने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

कठेरिया की भतीजी उमा की सास पुष्पा ने बताया कि परिवार के सदस्य रात को सोये हुए थे. रात करीब 1.35 बजे अचानक घर में आग लग गई. सभी लोग घर से बाहर निकलने के लिए भागे तो घर के दरवाजों की कुण्डियां बंद थीं. इस पर घर में चीख पुकार शुरू हो गयी. घर में पेट्रोल की बदबू आ रही थी. आग से परिवार के सभी लोग झुलस गये.

BJP MLA संगीत सोम के घर पर फेंका हथगोला, अंधाधुंध गोलीबारी, पांच सुरक्षाकर्मी निलंबित

उन्होंने बताया कि उमा का एक वर्ष का बेटा भी झुलस गया है. आग की लपटें बढऩे पर उमा घर की छत पर गईं और छत से नीचे कूद गईं. उन्होंने शोर शराबा किया तो आसपास के लोग जाग गये. बाहर से कुंडी खोलकर सभी को निकालकर अस्पताल पहुंचाया गया.