बलरामपुर: कोरोना के खिलाफ लड़ाई में रविवार रात 9 बजे नौ मिनट के लिए दीया जलाने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर जहां देशवासियों ने दीए जलाए, वहीं, इसी दौरान उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जिले में भाजपा महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष मंजू तिवारी ने दीप जलाने के बाद फायरिंग की. Also Read - स्वास्थ्य विभाग में तैनात IAS अधिकारी कोरोना संक्रमित, दिल्ली सरकार में थे स्पेशल ड्यूटी पर

बीजेपी महिला नेत्री को ऐसा करना भारी पड़ गया, न केवल उनके खिलाफ पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली, बल्कि पार्टी ने तत्‍काल उन्‍हें पद से हटा दिया. हालांकि, वह अपनी गलती मानते हुए अब माफी मांग रहीं हैं. Also Read - Video: अमित शाह की वर्चुअल रैली के विरोध में राबड़ी देवी ने तेजस्‍वी- तेज प्रताप संग बजाई थाली

फायरिंग के बाद मंजू तिवारी ने इसका वीडियो फेसबुक पर अपलोड कर दिया जिसके बाद यह वीडियो वायरल हो गया. इस मामले पर पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर लिया है और पार्टी ने पद मुक्त कर दिया है. Also Read - सात जिलों के कलेक्टरों सहित 17 IAS अधिकारियों का शिवराज सरकार ने किया तबादला, जानें कौन कहां भेजा गया

भाजपा नेता का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद नगर कोतवाली पुलिस ने मंजू तिवारी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अरविन्द मिश्रा ने बताया, “सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है. जिसमें 5 अप्रैल की एक घटना दिखाई जा रही है. जिसमें मंजू तिवारी द्वारा फायरिंग की जा रही है.” उन्होंने बताया कि मामले में समुचित धाराओं में नगर कोतवाली में केस दर्ज हो गया है.

भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष दर्शना सिंह ने कहा, “फायरिंग की घटना का पार्टी ने संज्ञान लिया है. उन्हें पद से तुरंत मुक्त किया जाता है. भाजपा एक अनुशासित पार्टी है उसमें ऐसे किसी कृत्य की जगह नहीं है.”

महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष मंजू तिवारी ने रिवाल्वर से हवाई फायरिंग का वीडियो फेसबुक पर पोस्ट कर लिखा, “दीप जलाने के बाद कोरोना को भगाते हुए.”

इसके बाद उनका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया और लोगों की अलग-अलग प्रतिक्रिया भी शुरू हो गईं. मामला सुर्खियों में आने के बाद मंजू तिवारी ने अपने फेसबुक वाल से वीडियो को डिलीट भी कर दिया. जिलाध्यक्ष मंजू तिवारी ने अपने पति की लाइसेंसी रिवाल्वर से फायरिंग की थी.

वीडियो वायरल होने के बाद अब भाजपा नेता को अपनी गलती का एहसास हो रहा है. मंजू तिवारी ने अपने बयान में कहा, “कल जब मैंने पूरे शहर को रोशनी से सराबोर देखा तो मुझे लगा कि आज दीवाली है. इसी उत्साह में मैंने फायरिंग कर दी. मैं अपने इस कृत्य के लिए सभी से माफी मांगती हूं.