अयोध्या: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को अयोध्या में श्री राम मंदिर निर्माण की आधारशिला रखी. अयोध्या में राम मंदिर के लिए भूमि पूजन की प्रक्रिया पूरी हो गई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ इस पूजा में संघ प्रमुख मोहन भागवत, उप्र की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मौजूद रहे. इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने अयोध्या पहुंचकर हनुमानगढ़ी मंदिर में पूजा की. इसके बाद रामलला के दर्शन किए और उसके बाद भूमि पूजन के कार्यक्रम में शामिल हुए. Also Read - आज संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करेंगे प्रधानमंत्री मोदी, आतंकवाद सहित इन मुद्दों पर रहेगा फोकस

इस मौके पर अयोध्या को सजाया गया है और दिवाली जैसा माहौल है. प्रधानमंत्री के दौरे के मद्देनजर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. इस मौके पर हर अतिथि को चांदी का सिक्का दिया जाएगा, जिसमें राम दरबार की तस्वीर होगी. इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रामनगरी अयोध्या पहुंचने पर हेलिपैड पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उनकी अगवानी की. इसके बाद वह हनुमानगढ़ी पूजन के लिए पहुंचे. इस दौरान उनके साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मौजूद रहे. Also Read - एस पी बालासुब्रमण्यम के निधन पर PM समेत अन्य नेताओं ने जताया शोक कहा- बेमिसाल संगीत से हमेशा यादों में रहेंगे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी श्री राम जन्मभूमि मंदिर’’ के शिलान्यास के लिए बुधवार को अयोध्या पहुंचे थे. वैदिक आचार्य ने भूमि पूजन प्रारंभ किया. प्रधानमंत्री पूर्व की दिशा में मुख कर पूजन में शामिल हो चुके हैं. भगवान श्री गणेश की स्तुति के साथ प्रधानमंत्री ने आचमन किया. प्रधानमंत्री ने परिक्रमा की और हनुमानगढ़ी के अन्य मंदिरों के दर्शन किए. इस दौरान उन्हें मुकुट वाली पगड़ी पहनाई गई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 28 वर्षो बाद अयोध्या की धरती पर कदम रखा है. Also Read - Time 100 most influential list: आयुष्मान के पिता बोले- उसकी जीत पर मेरी आंखों में आंसू होते हैं

इस दौरान सभी देवताओं का ध्यान किया गया. बाबा भैरवनाथ का स्मरण कर भूमि पूजन की ली गई अनुमति. इसी के साथ नौ शिलाओं का पूजन प्रारंभ हुआ. इस दौरान उन्होंने परिसर में पारिजात का पौधा लगाकर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया.