नई दिल्ली: गौतम बुद्ध नगर जिला प्रशासन ने मंगलवार को बेहद जरूरी सेवाओं को छूट देने के साथ दिल्ली-नोएडा बॉर्डर को पूरी तरह से सील कर दिया है. इससे पहले दिन में दिल्ली-गाजियाबाद बॉर्डर पर भारी ट्रैफिक की खबरें आईं थीं. जिसके बाद ये निर्णय लिया गया है. निर्णय स्वास्थ्य विभाग की सलाह की सिफारिशों के आधार पर बड़े जनहित में लिया गया है. Also Read - #SexBan: ब्रिटेन में सेक्स को लेकर नया कानून, शारीरिक संबंधों पर बैन, लोगों ने कहा जब सरकार ही...

गौतम बुद्ध नगर के जिला मजिस्ट्रेट ने ट्वीट कर इसकी जानतारी दी. उन्होंने कहा, “प्रिय निवासियों, चिकित्सा विभाग की सलाह के अनुसार, बड़े सार्वजनिक हित में, कोविड-19 से लड़ने के लिए एक निवारक उपाय के रूप में, हम निर्दिष्ट अपवादों के साथ, पूरी तरह से दिल्ली-जीबी नगर / नोएडा सीमा को बंद कर रहे हैं. आपसे अनुरोध है कि कृपया सहयोग करें. घर पर रहें, सुरक्षित रहें.” अब केवल सरकार द्वारा मान्य पास और COVID-19 आपातकालीन सेवाओं में लगे लोगों को अगली सूचना तक राज्यों के बीच आने जाने की अनुमति दी जाएगी. Also Read - Cinema Halls Will Reopen: इसी माह खुल जाएंगे सिनेमा घर! जानिए सरकार क्या कर रही प्लानिंग

बॉर्डर सील होने पर इन वाहनों को मिलेगी आने-जाने की अनुमति: Also Read - डोनाल्ड ट्रंप ने की पीएम नरेंद्र मोदी से बात, कहा- अगले हफ्ते तक भारत भेजेंगे 100 वेंटिलेटर्स

1. एंबुलेंस

2. COVID-19 आपातकालीन सेवाओं में शामिल अन्य अधिकारी और स्वास्थ्य कार्यकर्ता

3. आवश्यक वस्तुओं को लाने ले जाने में लगे छोटे और भारी परिवहन वाहन

4. गृह मंत्रालय द्वारा जारी वैध पहचान पत्र के साथ केंद्र सरकार के सचिव

5. एसीपी मुख्यालय द्वारा जारी पास वाले पत्रकार

6. गौतम बुद्ध नगर में आपातकालीन सेवाओं में लगे डॉक्टर

बता दें कि गौतमबुद्ध नगर में कोरोनावायरस का प्रकोप लागातार बढ़ रहा है और लॉकडाउन के साथ ही प्रशासन ने पूरे जिले में धारा 144 लागू कर दिया है, ताकि लोग घरों से बाहर कम निकलें और कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई में साथ दें. लेकिन इसके बावजूद कई ऐसे लोग हैं, जो नियमों का उल्लंघन करते हुए दिखाई दे रहे हैं.

नोएडा में पुलिस ने नियमों का उल्लंघन करने वालों के कुल 795 वाहनों को चेक किया, जिसमें कुल 323 वाहनों का चालान किया और आठ वाहनों को जब्त कर लिया, साथ ही नियमों का उल्लंघन करने वाले 20 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया. गौतमबुद्धनगर में कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों के 102 मामले अब तक सामने आ चुके हैं, जिसमें से 43 मरीजों को ठीक हो जाने पर घर भेज दिया गया है, साथ ही अब कुल 59 कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज चल रहा है.