नई  दिल्ली:  भारत में शादी टूटने के कई कारण हैं. कोई दहेज की वजह से शादी तोड़ देता है तो कोई दूल्हे के शराबी होने के कारण. कहीं काला रंग होने की वजह से शादी टूट जाती है तो कहीं कम पढ़े-लिखे होने की वजह से. लेकिन उत्तर प्रदेश के अमरोहा में एक बड़ा ही अजीब मामला सामने आया है. यहां एक लड़की की शादी सिर्फ इसलिए टूट गई क्योंकि वह कथित तौर पर वॉट्सऐप पर घंटों टाइम बीताती थी. हिन्दुस्तान टाइम्स की खबर के अनुसार शादी वाले दिन दुल्हन का परिवार और रिश्तेदार बारात का इंतजार करते रहे लेकिन बारात नहीं आई. बात में उन्हें बताया गया कि लड़की वॉट्एसऐप पर ज्यादा समय बीताती है इसलिए लड़के ने शादी से इनकार कर दिया. और शादी वाले दिन ही बनने से पहले ही रिश्ता टूट गया.Also Read - Rajasthan: T20 वर्ल्‍ड कप मैच में पाक की जीत पर खुशी मनाने वाली टीचर अरेस्‍ट

हालांकि दुल्हान के परिवार ने इस तरह की खबरों को खारिज कर दिया और कहा कि लड़के का परिवार 65 लाख रुपए दहेज मांग रहा था. लड़की के पिता ने लड़के और उसके परिवार के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है. नौगांवा सादात के शाहफरीद मोहल्ले में रहने वाले मेंहदी का निकाह फकरपुरा के कमर हैदर से तय हुआ था. पांच सितंबर की शाम को बारात आनी थी, दुल्हन पक्ष इसकी पूरी तैयारी भी कर चुका था. बारात लगातार लेट होती रही तो दूल्हा पक्ष के लोगों को फोन किया गया. दुल्हन के पिता के फोन पर दूल्हे के पिता ने कहा कि वो बारात नहीं ला रहे क्योंकि उनकी बेटी हमेशा वॉट्सऐप पर बिजी रहती है और इससे उनका बेटा खुश नहीं है. Also Read - यूपी पुलिस ने T20 वर्ल्‍ड कप मैच में पाक टीम की जीत का जश्‍न मनाने पर 7 लोगों को बुक किया

दूल्हे के पिता का कहना है कि उन्हें नहीं पता था कि लड़की वालों के परिवार का क्या माहौल है. जब मेरे बेटे को लड़की के दिनरात वॉट्सऐप चलाने और कई लोगों को मैसेज भेजने का पता चला तो हमने शादी तोड़ ली. उनका कहना था कि अभी शादी की तारीख तय नहीं थी, बारात आने की तैयारियों की बात गलत है. वहीं दुल्हन के पिता का कहना है कि निकाह से कुछ घंटे पहले 65 लाख रुपए की मांग कई गई. अचानक इतना पैसा नहीं दे पाने की बात कहने पर लड़की के वॉट्सऐप चलाने और मैसेज भेजने की बात कहने लगे. मेरे लाख मनाने पर भी वो बारात लेकर नहीं आए, तो मजबूरन पुलिस में रिपोर्ट करनी पड़ी. Also Read - UP: सपा-सुभासपा के गठबंधन का ऐलान, अखिलेश बोले- बंगाल में खेला हुआ, UP में खदेड़ा होगा