नई दिल्ली: अयोध्या के दो दिवसीय दौरे के दूसरे दिन शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने रविवार को रामलला के दर्शन के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस कर राम मंदिर के मुद्दे पर बीजेपी पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि चुनाव आते ही राजनीतिक पार्टियां राम-राम करती हैं और फिर बाद में आराम से बैठ जाती हैं.उद्धव ने कहा कि अगर राम मंदिर नहीं बना सकते तो हमसे कहो कि नहीं हो पाएगा. ठाकरे ने कहा कि हिंदू ताकतवर हो गया है, हिंदू मार नहीं खाएगा. यह सरकार मंदिर नहीं बनाएगी तो कौन बनाएगा? अगर मामला अदालत के पास ही जाना है तो चुनाव प्रचार के समय उसे इस्तेमाल न करें. बता दो कि भाइयो और बहनो हमें माफ करो, ये भी हमारा एक चुनावी जुमला था. Also Read - कांग्रेस ने सामूहिक पलायन पर सरकार से पूछे सवाल, कहा- गरीबों की जिंदगी मायने रखती है या नहीं

अयोध्या में विश्व हिंदू परिषद की ‘धर्म सभा’ थोड़ी देर में, चप्पे-चप्पे पर रखी जा रही नजर Also Read - सोनिया गांधी ने पीएम का समर्थन किया, कहा- लॉकडाउन सही लेकिन किसानों-छोटे कारोबारियों को राहत दे सरकार

ठाकरे ने कहा कि शनिवार को जिन संतों ने मुझे आशीर्वाद दिया, मैंने उन्हें बताया कि जो काम हम शुरू करने वाले थे, वो उनके आशीर्वाद के बिना नहीं हो सकता. मंदिर कब बनेगा? उस तारीख का ऐलान होना चाहिए. हिंदुओं की भावनाओं के साथ खिलवाड़ नहीं होना चाहिए. शिवसेना प्रमुख ने कहा कि चाहे कानून बनाओ या अध्यादेश लाओ लेकिन जल्द मंदिर बनाओ. उन्होंने कहा कि राम जन्मभूमि के दर्शन के लिए जाते समय उन्हें लगा कि वह जेल में जा रहे हैं. आज की सरकार बहुत ताकतवर है, अगर वह चाहे तो मंदिर बन सकता है. अगर ये सरकार मंदिर नहीं बनाएगी तो मंदिर तो ज़रूर बनेगा लेकिन शायद ये सरकार नहीं रहेगी. Also Read - मोदी सरकार का ऐलान, 80 करोड़ लोगों को हर महीने मिलेगा सात किलो राशन

अयोध्या में राम मंदिर: वीएचपी की धर्मसभा और शिवसेना का कार्यक्रम आज, ठंड में बढ़ी गर्मी

शनिवार को भगवान श्रीराम की नगरी अयोध्या पहुंचे शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे रविवार सुबह करीब नौ बजे कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच अपनी पत्नी रश्मि और बेटे आदित्य ठाकरे के साथ पीछे के द्वार से पहुंच कर रामलला के दर्शन किए और राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास को मंदिर निर्माण के लिए चांदी की ईंट भेंट की. राम मंदिर मुद्दे पर शनिवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को कुंभकर्ण बता चुके शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने रविवार को अपने निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार सुबह करीब नौ बजे अपनी पत्नी रश्मि ठाकरे व बेटे आदित्य ठाकरे के साथ कड़ी सुरक्षा व्यवस्थ के बीच पीछे के द्वार से प्रवेश कर रामलला के दर्शन किए और राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास को मंदिर निर्माण के लिए चांदी की ईंट भेंट की.

अयोध्या में बनेगी भगवान राम की सबसे ऊंची प्रतिमा, स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से 39 मीटर ज्यादा होगी ऊंचाई

इधर, खुफिया ब्यूरो (आईबी) से मिली जानकारी के बाद अयोध्या शहर की सुरक्षा अचानक और बढ़ा दी गई है. पुलिस महानिदेशक कार्यालय से एक एडीजी, एक डीआईजी, तीन एसएसपी, 10 एएसपी, 21 डीएसपी, 160 इंस्पेक्टर, 700 कांस्टेबल, 22 कंपनी पीएसी, 5 कंपनी आरएएफ और एटीएस कमांडो की तैनाती अयोध्या में की गई है, साथ ही ड्रोन कैमरे से भी शहर कर निगरानी की जा रही है. रविवार को भक्तमल बगिया में विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी), राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) और बजरंग दल धर्मसभा का आयोजन कर रहे हैं. इसमें हजारों की तादाद में रामभक्तों के पहुंचने का सिलसिला जारी है.