लखनऊ: बसपा अध्यक्ष मायावती ने लोकसभा में उपाध्यक्ष के प्रति आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर सपा सांसद आजम खां की कड़ी निंदा करते हुए उनसे सभी महिलाओं से माफी मांगने को कहा है. मायावती ने ट्वीट कर कहा कि सपा सांसद आजम खां द्वारा कल लोकसभा में पीठासीन महिला के खिलाफ जिस प्रकार की अशोभनीय भाषा का इस्तेमाल किया गया, वह महिला गरिमा और सम्मान को ठेस पहुंचाने वाला है और अति निन्दनीय है.Also Read - बीएसपी चीफ मायावती ने कहा, अगले लोकसभा चुनाव की तैयारी जारी रखें बसपा कार्यकर्ता

Also Read - राष्ट्रपति चुनाव में BSP ने द्रौपदी मुर्मू को समर्थन देने का ऐलान किया, ममता बनर्जी को लेकर जताई नाराजगी

Also Read - Agneepath Scheme: युवाओं को उकसाने पर 5 अरेस्ट, NSUI जिलाध्यक्ष और सपा से जुड़े नेता भी शामिल

लोकसभा चुनाव साथ मिलकर लड़ने के बाद हाल में सपा से नाता तोड़ चुकी बसपा प्रमुख मायावती ने कहा कि आजम को इसके लिए संसद में ही नहीं, बल्कि सभी महिलाओं से माफी मांगनी चाहिए. गौरतलब है कि लोकसभा में गुरुवार को तीन तलाक पर रोक लगाने के प्रावधान वाले विधेयक पर चर्चा के दौरान पीठासीन सभापति रमा देवी को लेकर सपा सांसद आजम खां की एक टिप्पणी पर भाजपा सदस्यों ने जोरदार विरोध जताया और उनसे माफी की मांग की थी.

रमा देवी पर आजम की टिप्पणी को सांसदों ने बताया धब्बा, कहा- शर्म से झुक गया सिर, हो कड़ी कार्रवाई

आजम खान ने की थी आपत्तिजनक टिप्पणी

पीठासीन सभापति रमा देवी ने ‘मुस्लिम महिला (विवाह अधिकार संरक्षण) विधेयक, 2019’ पर सदन में हो रही चर्चा के दौरान अपनी बात रख रहे खां से आसन की ओर देखकर बोलने को कहा था. इस पर खान ने कुछ ऐसी आपत्तिजनक टिप्पणी की जिस पर भाजपा के सदस्यों ने जोरदार विरोध किया. पीठासीन सभापति रमा देवी भी कहते सुनी गयीं कि यह बोलना ठीक नहीं है और इसे रिकॉर्ड से हटाया जाना चाहिए. उन्होंने इसके लिए खां से माफी मांगने को भी कहा था.