बलिया: उत्तर प्रदेश विधानसभा में बहुजन समाज पार्टी के उप नेता उमाशंकर सिंह ने प्रदेश के कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य पर सोमवार को निशाना साधते हुए कहा कि मौर्य को मौका मिले तो वह भी सपा-बसपा के प्रस्तावित गठबंधन का हिस्सा हो जायेंगे. साथ ही उन्‍होंने कहा कि अगर कोई मशीन लगाकर चेक किया जाए तो वह बताएगी कि स्‍वामी प्रसाद मौर्य खुद गठबंधन का हिस्‍सा बनकर चुनाव लड़ना चाहते हैं.

बलिया जिले के रसड़ा क्षेत्र से बसपा विधायक उमाशंकर सिंह ने सोमवार को पत्रकारों से बातचीत के दौरान प्रदेश के श्रम एवं सेवायोजन मंत्री मौर्य पर जमकर प्रहार किये. उन्होंने मौर्य के बयान पर कहा कि जो लोग इस तरह का बयान दे रहे हैं, वे अक्सर इस फिराक में रहते हैं कि काश किसी ना किसी रास्ते से वे भी फलां गठबंधन का हिस्सा बन जाते. दरअसल मौर्य ने कहा था कि सपा तथा बसपा का प्रस्तावित गठबंधन मुद्दों पर आधारित नहीं है और यह चुनाव से पहले ही खत्म हो जायेगा.

यूपी कैबिनेट मंत्री का सपा-बसपा पर हमला, ‘ज्‍यादा दिन नहीं चलेगा बुआ-बबुआ का रिश्‍ता’

मशीन लगाकर चेक करें तो पता चलेगा मौर्य खुद गठबंधन में आकर चुनाव लड़ना चाहते हैं
उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि अगर कोई मशीन लगाकर चेक किया जाये तो वह बतायेगी कि वे लोग खुद इस गठबंधन में आकर चुनाव लड़ना चाहते हैं. उन्हें जानकारी है कि इस गठबंधन का कितना अनुकूल असर और मजबूत प्रभाव होगा. मौर्य ने उत्तर प्रदेश के हालिया उपचुनावों में भाजपा की करारी पराजय के बाद बौखलाहट में यह बयान दिया है. सिंह ने मौर्य को नसीहत दी कि वह अपनी सरकार के गठबंधन और अपने मंत्रालय की चिंता करें. उन्होंने सवाल किया कि अगर भाजपा का अपने सहयोगियों से मुद्दे पर आधारित गठबंधन है तो फिर सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष काबीना मंत्री ओमप्रकाश राजभर योगी सरकार के विरुद्ध बयानबाजी क्यों कर रहे हैं.