कानपुर (उप्र): नागरिकता कानून के खिलाफ शहर के कई इलाकों में हजारों की संख्या में प्रदर्शनकारी लगातार नारेबाजी कर रहे हैं. परेड यतीमखाना इलाके में हिंसा पर उतारू भीड़ ने पुलिस पर पथराव कर दिया, जिसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज किया. परेड यतीमखाना इलाके में एकत्र प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव कर दिया. भीड़ को खदेड़ने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया. पथराव में कई लोगों के घायल होने की खबर है.

 


कानपुर जोन के अपर पुलिस महानिदेशक प्रेम प्रकाश ने बताया कि सपा विधायक अमिताभ बाजपेयी और पूर्व विधायक एवं सपा नेता कमलेश दिवाकर को एहतियातन गिरफ्तार कर लिया गया है . दोनों नेताओं की गाड़ियों को भी सीज कर दिया गया है. प्रकाश ने बताया कि भीड़ सडकों पर है. बाबूपुरवा, नयी सड़क, मूलगंज, दलेलपुरवा, हलीम कालेज और अन्य मुस्लिम बहुल इलाकों में लोग सडकों और गलियों में एकत्र होकर प्रदर्शन कर रहे हैं. भारी पुलिस बंदोबस्त किया गया है. उन्होंने बताया कि भीड़ को समझाने के लिए शहर काजी की मदद ली जा रही है.

यूपी में हिंसक प्रदर्शन के दौरान 15 लोगों की मौत, मरने वालों में 8 साल का बच्चा भी शामिल

प्रदर्शनकारियों ने की गिरफ्तार लोगों को रिहा करने की मांग
इस बीच हिंसा में जिन दो लोगों की कल मौत हुई थी, उनके शव अभी दफन नहीं किये गये हैं. पुलिस का कहना है कि शवों को पुलिस निगरानी में ही दफनाया जाएगा. प्रदर्शनकारियों की मांग है कि जिन लोगों को गिरफ्तार किया गया है या जिन लोगों को हिरासत में लिया गया है, उन्हें तत्काल रिहा किया जाए वे तभी सड़कों से वापस जाएंगे.