बलिया: कार नहीं रोके जाने पर विवेक तिवारी की पुलिस द्वारा गोली मारकर हत्या किए जाने के बाद यूपी सरकार के मंत्री ही उसके खिलाफ बोलने लगे हैं. यूपी सरकार के कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने एक बार फिर निशाना साधते हुए कहा कि यूपी पुलिस रुपए लेकर एनकाउंटर के रूप में हत्या कर रही है. उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ की सरकार कानून व्यवस्था के मोर्चे पर पूरी तरह से नाकाम साबित हुई है. उन्होंने कहा कि यूपी में कानून व्यवस्था मजाक बन कर रह गई है.Also Read - UP News: योगी सरकार का बड़ा फैसला, कोरोना काल में दर्ज हुए 3 लाख मुकदमे वापस होंगे, निर्देश जारी

Also Read - Up Free Laptop Yojana: यूपी की योगी सरकार 20 लाख युवाओं को फ्री में देगी लैपटॉप, बस करना होगा ये काम, जानिए

विवेक मर्डर केस: सना ने बताई सच्चाई, कहा- पुलिस वाले चिल्लाते हुए कार के सामने आए और गोली मार भाग गए Also Read - Lakhimpur Kheri Violence Case: सुप्रीम कोर्ट ने यूपी की योगी सरकार को लगाई कड़ी फटकार, रात तक करते रहे इंतजार....

यूपी में जुर्म का इकबाल

ओमप्रकाश राजभर ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए कि मुठभेड़ के नाम पर धन लेकर हत्या की वारदात अंजाम दे रही है. प्रदेश में जुर्म का इकबाल कायम है. मुख्यमंत्री योगी ना तो प्रदेश में अपराध कम करने में सफल हुए हैं और न ही जनता को सुरक्षा का एहसास करा पाए हैं. राजभर ने कहा कि कानून-व्यवस्था के नाम पर योगी सरकार पूरी तरह नाकाम साबित हुई है. उन्होंने विवेक तिवारी मामले की सीबीआई जांच और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्यवाई की मांग भी की. बता दें कि मंत्री ब्रजेश पाठक भी कह चुके हैं कि पुलिस ठीक से काम नहीं कर रही है. वहीँ, कानून व्यवस्था के मामले में घिरी सरकार पर विपक्ष भी हमलावर है. आज ही मायावती व सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव सरकार पर निशाना साधा है.

विवेक की पत्नी ने कहा- BJP सरकार बनने पर खुशियां मनाई थी, उसी ने हमारे साथ ऐसा किया

कार नहीं रोकने पर विवेक को मारी थी गोली

बता दें कि शुक्रवार-शनिवार की रात विवेक तिवारी मोबाइल लॉन्चिंग के बाद घर लौट रहे थे. इसी दौरान गोमती नगर विस्तार में दो पुलिस कर्मियों ने कार रोकने का इशारा किया. रात अधिक होने और सहयोगी सना खान साथ होने के कारण विवेक ने कार नहीं रोकी तो प्रशांत चौधरी एक अन्य पुलिसकर्मी ने बाइक आगे लगाकर उन्हें रुकने पर मजबूर किया और फिर गोली मार दी. इससे विवेक की मौत हो गई थी. इसके बाद पुलिस वाले मौके से भाग गए थे. इसे लेकर मचे बवाल के बाद यूपी सरकार ने पीड़ित परिवार को 25 लाख रुपए व विवेक की पत्नी को नौकरी देने की बात कही है. दोनों आरोपी पुलिस कर्मियों को जेल भेज दिया गया है.

Exclusive: विवेक को गोली मारने वाले सिपाहियों के समर्थन में यूपी पुलिस, 5 करोड़ रुपए देने का ऐलान