लखनऊ/गोरखपुर: उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने शनिवार को कहा कि बहराइच से भाजपा सांसद सावित्रीबाई फुले का इस्तीफा देना बहुत सही निर्णय है. उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में सांसदों और विधायकों की सुनी नहीं जा रही है. ऐसे में उन्होंने जो निर्णय लिया है वह बिल्कुल ठीक है. Also Read - कल राष्ट्रीय स्वच्छता केंद्र का उद्घाटन करेंगे पीएम नरेंद्र मोदी, 2017 में हुई थी घोषणा

Also Read - New Education Policy 2020: पीएम मोदी ने कहा- 21वीं सदी के नए भारत की बुनियाद बनेगी यह शिक्षा नीति

BJP से इस्‍तीफा देने के बाद सावित्रीबाई फुले की हुंकार, ‘बहुजन समाज के हितों के लिए उठाती रहूंगी आवाज’ Also Read - शिक्षा नीति ऐसी होनी चाहिए जो वर्तमान और आने वाली पीढ़ियों का भविष्य तैयार करे : पीएम मोदी

राजभर ने कहा कि जब सांसद की बात अधिकारी नहीं सुनेगा तो क्या होगा. सांसद को जनता को जवाब देना पड़ता है. ऐसे में उनका निर्णय कहीं न कहीं बिलकुल उचित है. उन्होंने एक बार फिर बुलंदशहर की हिंसा को भाजपा की साजिश बताते हुए कहा कि 2019 में वोट बैंक के चक्कर में भाजपा यह सब करवा रही है. राजभर ने एक सवाल के जवाब में कहा कि आप को भी गठबंधन को लेकर कोई निर्णय लेना पड़े तो क्या करेंगें?

बुलंदशहर हिंसा: यूपी सरकार के कैबिनेट मंत्री ओपी राजभर बोले- योगी के लोग ही कर रहे हमला

सपा, बसपा का गठजोड़ हुआ तो बढ़ेगी बीजेपी की मुश्किल

उन्होंने कहा कि मैं स्वतंत्र हूं और भाजपा के साथ हूं. बीजेपी रखेगी तो रहूंगा, नहीं रखेगी तो नहीं रहूंगा. मैं किसी के खिलाफ नहीं बोलता बस सच बोलता हूं. अगर सपा, बसपा का गठजोड़ हुआ तो भाजपा के लिए मुश्किल होगी. (इनपुट एजेंसी)