बहराइच: पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी पर कथित आपत्तिजनक ऑडियो क्लिप को सोशल मीडिया पर वायरल करने के आरोप में पुलिस ने एक सरकारी स्वास्थ्य कर्मी सहित दो युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है और एक आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया है.

आपत्तिजनक ऑडियो वायरल होने के बाद हिन्दूवादी संगठनों ने पुलिस के समक्ष विरोध दर्ज कराया और मामले में कठोर कार्रवाई की मांग की. पुलिस अधीक्षक सभाराज ने सोमवार को बताया कि रिसिया थाना क्षेत्र के ग्राम भोपतपुर के आजाद खान नामक युवक ने पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी को लेकर शनिवार को दो मिनट का एक आपत्तिजनक ऑडियो सोशल मीडिया वाट्सएप आदि पर पोस्ट कर अपने तमाम दोस्तों को व समूहों में वायरल कर दिया था. बहराइच के एक सरकारी अस्पताल में तैनात फार्मासिस्ट अनवारूल हक ने भी उक्त पोस्ट के प्रसार को बढ़ावा दिया था.

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी की बहन को खुलेआम तेजाब से जलाने की धमकी

पुलिस ने दोनों के खिलाफ दर्ज किया मुकदमा
एसपी ने बताया कि सामाजिक कार्यकर्ता सुनील सिंह की तहरीर पर भोपतपुर निवासी आजाद और हक के विरुद्ध समुदायों में वैमनस्य फैलाने, साम्प्रदायिक सौहार्द खराब करने व आईटी एक्ट के तहत मुकदमा पंजीकृत कर मामले की जांच शुरू कर दी गई है. पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मुख्य आरोपी आजाद खान को कल रविवार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है जबकि हक की गिरफ्तारी के लिए संभावित ठिकानों पर दबिश दी जा रही है. खबर लिखे जाने तक उसे गिरफ्तार नहीं किया जा सका है. मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ एके पाण्डेय ने बताया कि एफआईआर का विश्लेषण कर आरोपी फार्मासिस्ट के विरूद्ध विभागीय जांच करने के बाद कार्रवाई की जाएगी.