लखनऊ : प्रदेश की राजधानी लखनऊ में शिया समुदाय ने पकिस्तान की कायराना कारवाईयों के विरोध में ईद नहीं मनाई. यूपी शिया सेन्ट्रल वक्फ बोर्ड ने कश्मीर में आतंकी वारदात में शहीद हुए जेके लाइट इंफेंट्री के सैनिक औरंगजेब व पत्रकार शुजात बुखारी की हत्या के विरोध में पाकिस्तान के झंडे जलाए. ईद के दिन शिया सेन्ट्रल वक्फ बोर्ड के कार्यालय ने ईद न मनाने का ऐलान करते हुए ईद की छुट्टी रद्द कर दी.

पाकिस्तान के आर्मी चीफ की तस्वीर व झंडा जलाया

पाकिस्तान के आर्मी चीफ की तस्वीर व झंडा जलाया

ईद के दिन कार्यालय में पूरा स्टाफ मौजूद रहा. शिया बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी के मुताबिक रमजान माह में पाकिस्तान की कायराना हरकत के खिलाफ अपना आक्रोश व्यक्त करने के लिए उन्होंने ये निर्णय लिया. पाकिस्तान के विरोध में बोर्ड कार्यालय में पकिस्तान के झंडे के साथ पाकिस्तानी आर्मी चीफ कमर बाजवा की तस्वीरें भी जलाई गईं. बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने कहा कि हमने ईद के दिन ऐसा करके पाकिस्तान के मुंह पर तमाचा मारा है साथ ही उन्होंने कहा कि ये भारतीय मुसलमानों की ओर से पड़ोसी मुल्क को संदेश है कि हमारे देश की ओर आंख उठाने का खामियाजा उसे भुगतना होगा.

शिया बोर्ड के अध्यक्ष ने कहा एक बदले 50 सर लाने का वादा सरकार पूरा करे

शिया बोर्ड के अध्यक्ष ने कहा एक बदले 50 सर लाने का वादा सरकार पूरा करे

उन्होंने कहा कि हमारी भारत सरकार से मांग है कि वो पाकिस्तान से एक सर के बदले पचास  सर लाने के अपने वादे को पूरा करे. शिया सेन्ट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष रिजवी के ने कहा रमजान माह में कश्मीर में हुई इन घटनाओं और लंबे समय से पाकिस्तान द्वारा कश्मीर में की जा रही भारतीय सैनिकों की हत्या से सभी भारतीय गुस्से में हैं. फौजी औरंगजेब और पत्रकार शुजात बुखारी की हत्या के विरोध और शोक में शिया बोर्ड ने ईद नहीं मनाने का निर्णय लिया. ईद के दिन शुक्रवार को कार्यालय में पकिस्तान के विरोध और झंडा जलाने का कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमे शिया बोर्ड का अधिकतर स्टाफ कार्यालय में मौजूद रहा.