Centralized Control Room constituted in Noida and Greater Noida to get the information about beds, oxygen, Remidisivir: उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्धनगर जिले में कोरोना की स्थिति भयावह बनी हुई है. जिले के दोनों प्रमुख शहरों नोएडा और ग्रेटर नोएडा में कोरोना पीड़ित मरीजों के लिए अस्पतालों में बेड तक की कमी हो गई है. तमाम ऐसे मरीज हैं जिनको बेड नहीं मिल रहा है और वे घर पर ही इलाज कराने को मजबूर हैं. इस कारण पूरे शहर में अफरातफरी की स्थिति है.Also Read - इजराइल में घूमिये ये 10 खूबसूरत जगहें, टूरिस्टों को अब नहीं कराना होगा RT-PCR टेस्ट

ऐसे में जिले के डीएम सुहास एलवाई ने हॉस्पिटलों में बेड की स्थिति को लेकर एक सेंट्रलाइज कंट्रोल रूम बनाया है. इस कंट्रोल रूम से हर कोई सूचनाएं प्राप्त कर सकता है. अगर आप नोएडा-ग्रेटर नोएडा में रहते हैं और आपके यहां कोई कोरोना का मरीज है तो आप इस कंट्रोल रूम से जानकारी हासिल कर सकते हैं. Also Read - हफ्ते में सिर्फ 3 दिन जाना होगा ऑफिस, 8 फीसदी बढ़ेगी सैलरी; जानिए - कौन सी कंपनी दे रही है यह सुविधा

इस कंट्रोल रूम से दोनों शहरों के अस्पतालों में बेड की स्थिति, ऑक्सीजन की उपलब्धता और रेमिडिसिविर दवा की उपलब्धता की जानकारी मिलेगी. जिलाधिकारी की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि इस कंट्रोल रूम से इमर्जेंसी की स्थिति में मरीजों को लाभ मिलेगा. इसके लिए एक टोल फ्री नंबर जारी किया गया है. ये नंबर है- 18004192211. इस नंबर पर कॉल कर कोई भी इस बारे में विस्तृत जानकारी हासिल कर सकता है. Also Read - भारत में Omicron के सब वेरिएंट BA.5 के एक और मरीज की पुष्टि, दक्षिण अफ्रीका से वडोदरा आया था शख्स