शामली: उत्तर प्रदेश के शामली जिले से एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है. बुरी नजर से बचाने के लिए एक बच्चे के गले में बांधे गए धागे ने ही उसकी जान ले ली. अचानक से नीचे गिरते ही उसके गले में बंधा धागा पालने से उलझ गया. गुरुवार को जिस वक्त यह हादसा हुआ, उस वक्त बच्चे के माता-पिता वहां मौजूद नहीं थे. Also Read - 21 मई से उत्तर प्रदेश के सभी राशन कार्ड धारकों को मिलेगा मुफ्त राशन, नहीं दिया जाएगा चना

शामली जिले के गढ़ी दौलत गांव में यह घटना तब घटी, जब बच्चे के माता-पिता उसे कुछ समय के लिए अकेला छोड़कर छत पर चले गए थे. लौटने पर उन्होंने देखा कि उनका बच्चा पालने में बेसुध पड़ा है और उसके गले के चारों ओर वह धागा कस गया है. Also Read - पिछले 10 साल से कब्रिस्तान और श्मशान से कफन चुराकर बेच रहा था गैंग, सात लोग गिरफ्तार

बच्चे के माता-पिता उसे तुरंत अस्पताल लेकर गए, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया. बुरी नजर से बच्चे की रक्षा करने के लिए गले में धागा बांधना उत्तर प्रदेश में आम बात है. Also Read - इन दस राज्यों में कोविड-19 के 71 फीसदी से ज्यादा नए मामले, महाराष्ट्र और कर्नाटक सबसे आगे

बच्चे का पिता एक मजदूर है. उसने इस पर कहा, “वह पालने में सो रहा था. मुझे नहीं पता कि वह कैसे गिरा और धागा झूले में कैसे उलझा.” घटनाक्रम से, शामली में पिछले साल भी इसी तरह की एक घटना हुई थी.