UP News: उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होनेवाले हैं. उससे पहले प्रदेश की योगी सरकार (UP CM Yogi Adityanath) ने वादों और घोषणाओं की बौछार लगा दी है. इसी क्रम में यूपी सरकार बड़ा कदम उठाते हुए प्रदेश में डॉक्टरों की रिटायरमेंट की उम्र  बढ़ाने जा रही है. उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग के लिए ये एक बड़ा फैसला हो सकता है, क्योंकि अब योगी सरकार डॉक्टरों की रिटायरमेंट उम्र 5 साल बढ़ा रही है और अब प्रदेश के डॉक्टर 65 की बजाय 70 साल की उम्र में रिटायर होंगे.Also Read - सुना है कि बीजेपी अपने 150 MLA के टिकट काटने जा रही... हमने 300 सीटों को पार कर लिया: अखिलेश यादव

डॉक्टरों की रिटायरमेंट उम्र होगी 70, सीएम योगी ने दी सहमति Also Read - UP CM Yogi Adityanath: सीएम योगी का बड़ा एक्शन-सरकारी कर्मचारियों को बताना होगा, शादी में दहेज लिया था

सरकार के इस निर्णय से संबंधित प्रस्ताव पर जल्द ही कैबिनेट बैठक में मुहर लगाई जाएगी. उत्तर प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना ने इस बारे में बताया है कि इस कोरोना काल में हमें ज्यादा अनुभव वाले डॉक्टरों की आवश्यकता है. ऐसे में, डॉक्टर रिटायरमेंट के बाद अपना कोई प्राइवेट क्लीनिक खोलें, इससे बेहतर है कि वह अपनी सेवाएं हमें ही दें. इसलिए हमने ये प्रस्ताव तैयार किया है. यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस पर अपनी सहमति भी दे दी है और जल्द ही इसे कैबिनेट से मंजूरी दी जाएगी. Also Read - UP: PM मोदी 25 अक्टूबर को सिद्धार्थनगर से 7 मेडिकल कॉलेजों का उद्घाटन करेंगे, CM योगी ने दी ये जानकारी

आज योगी सरकार ने पेश किया अपना रिपोर्ट कार्ड

आज यानी 19 सितंबर को प्रदेश की योगी सरकार के साढ़े चार साल पूरे हो गए हैं और इस मौके पर मुख्यमंत्री आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) एक प्रेस कांफ्रेंस कर अपनी सरकार का रिपोर्ट कार्ड पेश किया और अपनी उपलब्धियां गिनाईं. रविवार को आयोजित प्रेसवार्ता में उन्होंने रिपोर्ट कार्ड पेश करते हुए कहा कि साढ़े चार साल में हमने सुशासन देने की पूरी कोशिश की है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पिछले साढ़ चार साल में राज्य में कोई दंगा नहीं हुआ है. यूपी में हर वर्ग के विकास के लिए काम किया गया है. इस अवसर पर एक बुकलेट जारी किया गया है.