नई दिल्ली: कानपुर के विकरू गांव में पुलिस और बदमाशों के बीच हुई हिंसक झड़प में आठ पुलिस कर्मी शहीद हो गए. इस देर रात हुई इस घटना से पूरे प्रशासन में हडकंप मच गया. शहीद हुए पुलिस कर्मियों की मौत पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने उनके परिवारों के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त की हैं. घटना की जानकारी मिलते ही सीएम मे अधिकारिओं को सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. Also Read - भूमि पूजन से पहले सीएम योगी ने अपने घर में जलाए दीप, उत्सव में शामिल हुए मंत्री और विधायक

घटना के बाद से सीएम योगी आदित्यनाथ लगातार DGP एचसी अवस्थी, अपर मुख्य सचिव और जिलाधिकारी के संपर्क में हैं. बता दें कि कल रात को यूपी पुलिस कानपुर के चौबेपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले वकरू गांव में हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को पकड़ने के लिए दबिश देने गई थी कि बदमाशों ने पुलिस टीम पर हमला कर दिया जिसमें आठ पुलिस कर्मी शहीद हो गए. Also Read - UP Govt अब संजीत यादव अपहरण- मर्डर केस की CBI जांच के लिए करेगी सिफारिश

डीजीपी द्वारा बताई गई जानकारी के अनुसार हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के खिलाफ धारा 307 के तहत मामला दर्ज किया गया था, पुलिस उसे गिरफ्तार करने गई थी. जेसीबी को वहां लगा दिया गया, जिससे हमारे वाहन बाधित हो गए. जब फोर्स नीचे उतरी तो अपराधियों ने गोलियां चला दीं. जवाबी गोलीबारी हुई, लेकिन अपराधी ऊंचाई पर थे, इसलिए हमारे 8 लोगों की मौत हो गई.

इस दिल दहला देने वाली घटना में एक सीओ, एक एसओ, एक चौकी इंचार्ज और पांच सिपाही शहीद हुए हैं. इसके अलावा 4 सिपाही घायल हैं जिनका इलाज अस्पताल में चल रहा है जिनमें एक गंभीर है. सीएम योगी आदित्यनाथ खुद इस पूरे मामले में अपनी नजर बनाए हुए हैं. उन्होंने अधिकारियों से मामले की पूरी रिपोर्ट भी मांगी है.