लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार के तीन साल पूरे होने पर बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इन तीन वर्षो में प्रदेश के सामने जो चुनौतियां आईं, उन्होंने ही हमें जूझने की प्रेरणा दी. इस मौके पर आयोजित पत्रकार वार्ता से पहले योगी की एहतियातन थर्मल स्कैनिंग भी की गई. उन्होंने मीडिया के माध्यम से जनता को संबोधित करते हुए कहा कि तीन साल के दौरान हमने तमाम चुनौतियों को अवसर में बदला है. हमने निवेश की संभावनाओं को बढ़ाया. अब सभी 75 जिलों में बिजली की आपूर्ती होगी, 1.67 लाख गांवों में बिजली पहुंच चुकी है. लोकतांत्रिक मूल्यों और आदर्शो पर से लोगों का विश्वास समाप्त हो रहा था. हमने उसे बहाल करते हुए उसे सुशासन की तरफ ले जाने में सफलता पाई है. इन तीन वर्षो में प्रदेश के सामने जो चुनौतियां थी, उन्होंने ही हमें जूझने की प्रेरणा दी. इसी का परिणाम है कि उत्तरप्रदेश पूरे देश में नए र्कीतिमान स्थापित कर रहा है. Also Read - Coronavirus को लेकर राम गोपाल वर्मा ने किया भद्दा मज़ाक, यूजर्स बोले- थोड़ी तो शरम करो, पुलिस लेगी एक्शन

  Also Read - Covid-19: सीएम योगी की फटकार के बाद हटाये गए 'छुट्टी मांगने वाले' नोएडा के DM, सुहास एलवाई नए जिलाधिकारी नियुक्त

योगी ने कहा कि हमारी सरकार ने अंतर-राज्यीय कनेक्टिविटी को आगे बढ़ाया है. चार शहरों में मेट्रो सेवाएं चालू हो गई हैं, जबकि दो शहरों में काम चाल रहा है. उन्होंने बताया कि आयुष्मान भारत योजना के जरिए पांच लाख लोगों का स्वास्थ्य बीमा कराया जा चुका है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भाजपा के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश सरकार विकास, विश्वास और सुशासन के तीन वर्ष पूरा करने जा रही है. इसके पीछे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रेरणा है. योगी ने कहा कि हमारी सरकार ने प्रयागराज में भव्य कुंभ का आयोजन किया. 1947 से 2016 तक राज्य में केवल 12 मेडिकल कॉलेज थे. तीन साल में हमने 30 नए मेडिकल कॉलेजों को मंजूरी दी है. अब तक 30 लाख लोगों को आवास मुहैया कराए जा चुके हैं. किसानों के 36 हजार करोड़ रुपये के कर्ज माफ किए हैं. किसान सम्मान योजना से 12 करोड़ रुपये बांटे हैं. हर गरीबों तक योजनाओं का लाभ पहुंचाया जा रहा है. हमने 35 लाख से ज्यादा युवाओं को रोजगार दिया गया है.

सरकार की उपलब्धियां गिनाई
उन्होंने कहा कि 68 वर्षो के बाद उत्तर प्रदेश के स्थापना दिवस के आयोजन की शुरुआत करना, एक जिला एक उत्पाद योजना, यूपी इन्वेस्टर्स समिट, हर जिला मुख्यालय और तहसील मुख्यालयों को फोर लेन से जोड़ने, प्रदेश की एयर कनेक्टिविटी को बेहतर बनाने जैसे सभी दिशाओं में हमने कार्य किए हैं. साथ ही उन्होंने बताया कि पहली बार प्रदेश में पुलिस फॉरेंसिक यूनिट बन रही है. साइबर अपराध रोकने के लिए अब हर एक रेंज में एक साइबर थाना होगा. हमने कोरोना को काबू करने के लिए विशेष मुहिम भी चलाई है.