नई दिल्ली: यूपी में एक तरफ अस्पताल में बच्चों की मौत का मामला गर्म है, वहीं राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कुछ ऐसा कह दिया है जिससे विवाद खड़ा हो सकता है. योगी ने बुधवार को लखनऊ में हुए एक कार्यक्रम में लोगों के जिम्मेदारियों से भागने की आदत पर तंज कसा है. सीएम योगी ने कहा, मुझे लगता है कहीं ऐसा ना हो कि लोग अपने बच्चों के दो साल का होते ही सरकार के भरोसे छोड़ दें, सरकार उनका पालन पोषण करे. Also Read - यूपी: गोरखनाथ मंदिर में पहुंचे सीएम योगी, आंवले के पेड़ के नीचे किया भोजन

योगी ने कहा, मीडिया कहती है कि फलानी जगह कूड़ा पड़ा है. हम लोग मानते हैं कि सरकार की जिम्मेदारी है. लगता है सारे जिम्मेदारियों से मुक्त हो गए हैं. यह भी पढ़ें: गोरखपुर के BRD अस्पताल में 48 घंटों में 42 बच्चों की मौत Also Read - Hyderabad बना सियासी जंग का अखाड़ा, BJP अध्‍यक्ष नड्डा का कल रोड शो, शाह- योगी भी संभालेंगे मोर्चा

इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यूपी सरकार ने 1000 करोड़ रुपए स्टार्टअप फंड के लिए आवंटित किए हैं. सिडबी (SIDBI) के साथ मिलकर 15 सितंबर से इस योजना की शुरुआत की जाएगी, जिससे युवाओं को रोजगार मुहैया कराने में मदद मिलेगी.

नहीं थम रहा बच्चों की मौत का सिलसिला

बता दें कि गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बच्चों की मौत का सिलसिला जारी है. 10-11 अगस्त को बीआरडी मेडिकल कॉलेज में ही 33 बच्चों की मौत हो गई थी. मंगलवार 29 अगस्त को खबर आई कि 48 घंटे के भीतर इस अस्पताल में ही 36 बच्चों की मौत हो गई.