मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोशल मीडिया पर जानकारी मिलने के बाद गोरखपुर की बीएड की एक छात्रा के ह्रदय के वॉल्व के इलाज के लिए 9.90 लाख रुपये की सहायता दी. Also Read - School Reopening: क्‍या यूपी में 21 सितंबर से नहीं खुलेंगे स्कूल?, डिप्‍टी सीएम ने दिया बड़ा बयान

प्रदेश के सूचना निदेशक शिशिर ने बताया कि गोरखपुर के मछली गांव कैंपियरगंज के रहने वाले राकेश चंद्र मिश्रा की पुत्री मधुलिका मिश्रा के हृदय के दोनों वाल्व खराब हो गए हैं और आपरेशन होना है लेकिन पैसे की कमी के चलते यह संभव नहीं हो पा रहा. Also Read - सीएम योगी ने जिस एसपी को किया था सस्‍पेंड, उस पर अब लगा हत्‍या के प्रयास का केस

उन्होंने बताया कि सोशल मीडिया के माध्यम से मुख्यमंत्री को इसकी जानकारी हुई. उन्होंने मधुलिका के पिता को पत्र लिखकर बताया कि उनकी पुत्री का मेदांता में इलाज कराने के लिए 9.90 लाख रुपये मुख्यमंत्री विवेकाधीन कोष से स्वीकृत कर दिए गए हैं और यह धनराशि मेदांता अस्पताल को भेज दी गयी है. Also Read - यूपी में भ्रष्टाचार के खिलाफ सख्‍त सीएम योगी, दो दिन में दो एसपी सस्‍पेंड किए

शिशिर के अनुसार मुख्यमंत्री ने पत्र में कहा कि उम्मीद है कि इस धनराशि से उसका ऑपरेशन सकुशल संपन्न होगा और वह जल्द ही स्वस्थ होकर अपनी आगे की पढ़ाई जारी रख सकेगी.

मुख्यमंत्री के विवेकाधीन कोष से गरीबों की सहायता की जाती है.