लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां आगरा में उनके पैतृक गांव बटेश्वर में यमुना नदी में विसर्जित की. आदित्यनाथ हैलीकॉप्टर से बटेश्वर पहुंचे और बाद में रानी घाट गए, जहां जिला प्रशासन ने व्यापक इंतजाम किए थे. Also Read - Uttar Pradesh Diwas: सीएम योगी ने कहा- यूपी के प्रति बदली देश की भावना, दूसरे राज्य भी अपना रहे हमारे प्रदेश का मॉडल

Also Read - UP: मेडिकल छात्र को आई लड़की की कॉल, मिलने गया तो हुआ अपहरण, डॉक्‍टर प‍िता से 70 लाख फिरौती मांगी

  Also Read - UP: हाईकोर्ट का बड़ा फैसला, शादीशुदा का दूसरे से रिश्‍ता अपराध है, यह ‘लिव इन रिलेशन’ भी नहीं

यूपी के बलरामपुर में अटल के नाम पर बनेगा सैटेलाइट सेंटर, पांच करोड़ का बजट भी मंजूर

शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सबसे पहले नदी किनारे मंदिर में पूजा की और फिर अस्थियां प्रवाहित की. वाजपेयी के दामाद रंजन भट्टाचार्य भी राज्य के चिकित्सा शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन के साथ मौजूद थे. एक जिला अधिकारी ने कहा कि आदित्यनाथ उस घर में भी गए, जहां वाजपेयी ने अपना बचपन बिताया था. 60 स्क्वायर यार्ड के उनके घर को स्मारक और संग्रहालय बनाया जाएगा. अधिकारी ने कहा कि यहां एक छोटा पर्यटक सर्किट बनाया जाएगा, जिसके तहत यज्ञशाला, पार्क और कई मंदिर बनाए जाएंगे.

लखनऊ का मशहूर ‘हजरतगंज चौराहा’ अब हुआ ‘अटल’ के नाम पर, BJP मेयर ने की घोषणा