लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कर्तव्य के प्रति लापरवाही बरतने और अधीनस्थ पुलिस अधिकारियों की तैनाती में गड़बड़ी किए जाने के आरोप में बुलंदशहर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को निलंबित कर दिया है. गृह विभाग के प्रमुख सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने रविवार को बताया कि मुख्यमंत्री ने प्रदेश के विभिन्न जिलों की कानून व्यवस्था की स्थिति की समीक्षा के दौरान शनिवार देर रात यह निर्देश दिए.

अवस्थी ने बताया कि पुलिस महानिदेशक ओमप्रकाश सिंह की रिपोर्ट के आधार पर बुलंदशहर की कानून व्यवस्था और वहां के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एन कोलांची की कार्यप्रणाली की समीक्षा के दौरान यह पाया गया कि वह थानाध्यक्षों और प्रभारी निरीक्षकों के पद पर तैनाती में अनियमितता बरत रहे हैं.

गृह विभाग के प्रमुख सचिव ने बताया कि रिपोर्ट में कोलांची द्वारा अपने अधीनस्थ पुलिस निरीक्षकों और थानाध्यक्षों की नियुक्ति में निर्धारित प्रक्रिया का पालन नहीं किए जाने की बात सामने आई है. यह भी सामने आया कि कोलांची ने दो ऐसे थानाध्यक्षों को नियमों के खिलाफ तैनाती दी, जिनके विरुद्ध पूर्व में प्रतिकूल प्रविष्टि दी गई थी.

अवस्थी ने बताया कि बुलंदशहर के एसएसपी की इस हरकत से पुलिस विभाग की छवि धूमिल हुई है, इसलिए उन्हें निलंबित कर पुलिस महानिदेशक मुख्यालय से संबद्ध करने के निर्देश दिए गए हैं.